मैड्रिड (एजेंसियां)। गेरेथ बेल के शानदार प्रदर्शन से रियल मैड्रिड को स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लीगा के मुकाबले में विलारियल के खिलाफ हार से बचा लिया। रियल मैड्रिड ये मैच 2-2 से ड्रॉ कराने में सफल रहा। मैड्रिड के लिए दोनों गोल बेल ने किए। इसके अलावा मैड्रिड को अंतिम समय में इंजुरी में 10 खिलाड़ियों के साथ होना पड़ा जब बेल इंजुरी टाइम के चौथे मिनट में रेड कार्ड के चलते मैदान छोड़कर चले गए।

जेरार्ड ने 12वें मिनट में गोल करके विलारियल का मैच में खाता खोल दिया। इसके बाद बेल ने पहले हाफ के इंजुरी टाइम (46वें मिनट) में गोल करके अपनी टीम की मैच में वापसी करा दी। इसके बाद मोई गोमेज ने 74वें मिनट में गोल किया और एक बार फिर विलारियल को मैच में आगे कर दिया। हालांकि टीम इस बढ़त को कायम नहीं रख पाई। बेल ने 84वें मिनट में अपना दूसरा गोल करके स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया। इसके बाद दोनों टीमें कोई गोल नहीं कर पाई और मैच ड्रॉ हो गया।

नस्लवाद के शिकार बने लुकाकू

मिलान। इंटर मिलान की टीम ने इटली की लीग-1 के मैच में कालियरी को 1-0 से हरा दिया। लेकिन, मिलान की टीम के लिए जीत की खुशी तब खराब हो गई जब उसके मुख्य स्ट्राइकर रोमेलू लुकाकू को नस्लवाद का शिकार होना पड़ा। बेल्जियम के लुकाकू ने सोमवार को फुटबॉल संघों और सोशल मीडिया से नस्लवाद से लड़ने के लिए अधिक प्रयास करने की गुहार लगाई। लुकाकू ने कहा कि इस तरह की घटना से पिछले महीने कई खिलाड़ी शिकार हुए थे और अब मैं भी हुआ। मैच में लुकाकू ने पेनल्टी पर गोल किया था। लोग लुकाकू को बंदर कहकर चिढ़ा रहे थे।

Posted By: Rahul Vavikar