टोक्यो। भारतीय महिला हॉकी टीम ने शनिवार को ओलिंपिक हॉकी टेस्ट इवेंट में अपने अभियान की शानदार शुरुआत करते हुए मेजबान जापान को 2-0 से हराया।

भारत ने पेनल्टी कॉर्नर विशेषज्ञ गुरजीत कौर द्वारा नौवें मिनट में किए गए गोल की मदद से 1-0 की बढ़त बनाई। जापान ने 16वें मिनट में अकी मित्सुहाशी के गोल से मैच में 1-1 की बराबरी कर ली। गुरजीत ने 35वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलते हुए भारत को 2-1 की बढ़त दिलाई जो निर्णायक साबित हुई।

भारत ने मैच में आक्रामक शुरुआत की और उसे शुरुआती 10 मिनटों में कई मौके मिले। दोनों टीमें ओलिंपिक खेलों की गाइडलाइन के अनुसार 16 सदस्यीय टीम के साथ खेली और वक्त-वक्त पर बदलाव किए। मेहमान टीम पहले क्वार्टर के बाद 1-0 से आगे थी। जापान को 16वें मिनट में इसका लाभ मिला जब मित्सुहाशी ने साथी खिलाड़ियों के साथ मूव्ह पर बराबरी का गोल दागा। भारत ने अधिकांश आक्रमण किए और जापान ने भी काउंटर अटैक किए। दोनों टीमें एक-दूसरे की रणनीति से अच्छी तरह परिचित थी क्योंकि पिछले कुछ समय में इनके बीच कई मैच हुए हैं। मध्यांतर तक स्कोर 1-1 था।

तीसरे क्वार्टर में भारत ने ज्यादा आक्रमण किए और 35वें मिनट में उसे पेनल्टी कॉर्नर मिला। गुरजीत ने गोल दागते हुए भारत को 2-1 की बढ़त दिलाई। जापान ने इसके बाद बराबरी पर आने की भरसक कोशिश की लेकिन भारतीय रक्षकों ने उन्हें गोल करने का कोई मौका प्रदान नहीं किया। भारत ने यह मुकाबला जीत टूर्नामेंट में विजयी आगाज किया।