टोक्यो। भारतीय महिला हॉकी टीम ने दो बार पिछड़ने के बाद वापसी कर रविवार को ऑस्ट्रेलिया को ओलिंपिक हॉकी टेस्ट इवेंट में 2-2 की बराबरी पर रोका।

दुनिया की दूसरे क्रम की ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए कैटलिन नॉब्स ने 14वें और ग्रेस स्टीवर्ट ने 43वें मिनट में गोल दागे। भारत की तरफ से वंदना कटारिया ने 36वें मिनट और गुरजीत कौर ने 59वें मिनट में गोल दागे। भारत ने पहले मैच में शनिवार को मेजबान जापान को 2-1 से हराया था। दुनिया की 10वें क्रम की भारतीय टीम ने मैच में आक्रामक शुरुआत की। दोनों टीमों को शुरुआत में कई पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन उनका फायदा नहीं उठाया गया। 14वें मिनट में ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण पर भारतीय डिफेंडर ने गोल पोस्ट के ठीक सामने गेंद को रोका और ऑस्ट्रेलिया को पेनल्टी स्ट्रोक मिला, इस पर नॉब्स ने गोलकर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया।

दूसरे क्वार्टर में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को पूरे समय दबाए रखा। उन्हें कई पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन भारतीय रक्षकों ने उन्हें सफल नहीं होने दिया। गोलकीपर सविता ने कई शानदार बचाव किए। मध्यांतर तक ऑस्ट्रेलिया 1-0 से आगे था।

तीसरे क्वार्टर में ऑस्ट्रेलिया ने कई हमले बोले और टीम को कई पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन गोलकीपर सविता ने इस क्वार्टर में भी कई बचाव किए। इसी दौरान वंदना कटारिया ने 36वें मिनट में गोल कर भारत को बराबरी दिलाई। भारत ज्यादा समय बराबरी पर नहीं रह पाया क्योंकि ग्रेस स्टीवर्ट ने 43वें मिनट में गोल दागते हुए ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से आगे कर दिया।

इसके बाद भारत ने बराबरी पर आने के लिए हमले तेज किए लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने मजबूत रक्षण किया। इसके बावजूद भारतीय फॉरवर्ड प्रयास करती रही और 59वें मिनट में उसे इसका फल मिला। भारत को पेनल्टी कॉर्नर मिला और गुरजीत कौर ने गोल दागते हुए भारत को 2-2 की बराबरी दिलाई।