चेन्नई। गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन के बाद सूर्यकुमार यादव की शानदार बल्लेबाजी (71 नाबाद) से मुंबई इंडियंस ने मंगलवार को आईपीएल 2019 के फाइनल में प्रवेश किया। मुंबई ने पहले क्वालीफायर 1 में चेन्नई सुपर किंग्स को 6 विकेट से रौंदा। चेन्नई की पारी को 131/4 पर रोकने के बाद मुंबई ने 9 गेंद शेष रहते 4 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। मुंबई ने पांचवीं बार आईपीएल के खिताबी मुकाबले में प्रवेश किया हैं। सूर्यकुमार यादव मैन ऑफ द मैच चुने गए।

चेन्नई सुपर किंग्स को अब 10 मई को होने वाले दूसरे क्वालीफायर में खेलना होगा। बुधवार को दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच होने वाले एलिमिनेटर की विजेता टीम दूसरे क्वालीफायर में पहुंचेगी।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे मुंबई को दीपक चाहर ने पहले ही ओवर में झटका दिया जब उन्होंने रोहित शर्मा (4) को एलबीडब्ल्यू किया। रोहित ने रिव्यू लिया लेकिन फैसला उनके खिलाफ ही रहा। मुंबई को दूसरा झटका लगा जब भज्जी की गेंद पर क्विंटन डी कॉक (8) ने लांग ऑफ पर डु प्लेसिस को कैच थमा दिया। मुंबई ने 21 रनों पर दूसरा विकेट खोया। सूर्यकुमार यादव ने इमरान ताहिर की गेंद पर चौका लगाकर फिफ्टी पूरी की। वे 37 गेंदों में 8 चौकों की मदद से फिफ्टी तक पहुंचे।

ताहिर ने इशान किशन (28) को बोल्ड कर चेन्नई को महत्वपूर्ण सफलता दिलाई। उन्होंने सूर्यकुमार के साथ तीसरे विकेट के लिए 80 रन जोड़े। ताहिर ने अगली गेंद पर कृणाल पांड्या का रिटर्न कैच लपका और मुंबई ने चौथा विकेट 101 के स्कोर पर गंवाया। सूर्यकुमार 54 गेंदों में 10 चौकों की मदद से 71 और हार्दिक पांड्या 13 रन बनाकर नाबाद रहे।

चेन्नई सुपर किंग्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। राहुल चाहर ने चेन्नई को पहला झटका दिया जब उन्होंने फॉफ डु प्लेसिस को स्थानापन्न खिलाड़ी अनमोलप्रीत सिंह के हाथों झिलवाया। उन्होंने 6 रन बनाए। अभी चेन्नई इस सदमे से उबरा भी नहीं था कि सुरेश रैना (5) ने जयंत यादव की गेंद पर उन्हीं को रिटर्न कैच थमा दिया। चेन्नई की मुश्किलें उस वक्त और बढ़ गई जब शेन वॉटसन ने 10 रन बनाकर कृणाल पांड्या की गेंद पर मिडऑन पर जयंत यादव का कैच थमा दिया। चेन्नई को तीसरा झटका 32 के स्कोर पर लगा। मुरली विजय और अंबाती रायुडू पारी को संभालने की कोशिश में जुटे थे लेकिन राहुल चाहर ने विजय को विकेटकीपर डी कॉक के हाथों स्टंप करवाया। विजय ने 26 रन बनाए।

धोनी जब 31 रनों पर थे तब जसप्रीत बुमराह की गेंद पर इशान किशन ने उनका कैच लपका था लेकिन रिप्ले में देखने पर यह नोबॉल निकली। यदि धोनी इस समय आउट होते तो 122 रनों पर पांचवां विकेट खोकर चेन्नई संकट में आ जाता। अंबाती रायुडू 37 गेंदों में 3 चौकों और 1 छक्के की मदद से 42 और धोनी 29 गेंदों में 3 छक्कों की मदद से 37 रन बनाकर नाबाद रहे। राहुल चाहर ने 4 ओवरों में घातक गेंदबाजी कर 14 रनों पर 2 विकेट लिए। कृणाल पांड्या और जयंत यादव ने 1-1 विकेट लिए।

मुंबई ने एक बदलाव कर मिचेल मैक्लेनाघन की जगह जयंत यादव को शामिल किया। चेन्नई ने एक बदलाव कर केदार जाधव की जगह मुरली विजय को शामिल किया।

मुंबई और चेन्नई के 18-18 अंक रहे लेकिन बेहतर नेट रनरेट के कारण मुंबई पहले और चेन्नई दूसरे स्थान पर रही। महेंद्रसिंह धोनी की चेन्नई टीम इस मैच को जीतकर इस सत्र में मुंबई के हाथों मिली दोनों हार का बदला लेना चाहेगी। दूसरी तरफ रोहित की मुंबई टीम इस सत्र में चेन्नई के खिलाफ जीत की हैट्रिक लगाते हुए आईपीएल फाइनल में प्रवेश करना चाहेगी।

आंकड़ों में मुंबई का पलड़ा भारी :

मुंबई और चेन्नई के बीच अभी तक हुए मैचों में मुंबई ने 15 मैच जीते जबकि चेन्नई ने 12 मैच जीत पाई हैं। यदि प्लेऑफ मैचों की बात की जाए तो 7 मैचों में से मुंबई ने 4 मैचों में जीत दर्ज की। इन सात मैचों में से सिर्फ एक बार लक्ष्य का पीछा करने वाली टीम विजयी हुई है।

इस सत्र में दोनों बार मुंबई विजयी :

मुंबई और चेन्नई दोनों ने इस सत्र में 9-9 मैच जीते लेकिन इनके बीच हुए दोनों मैचों में रोहित शर्मा की मुंबई टीम ने बाजी मारी है। मुंबई ने अपने घरे में चेन्नई को सत्र की पहली हार के लिए मजबूर किया और फिर कप्तान रोहित की फिफ्टी से चेन्नई को उसी के घर में हराया था।

टीमें (संभावित) - चेन्नई सुपर किंग्स : शेन वॉटसन, मुरली विजय, फॉफ डु प्लेसिस, सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, महेंद्रसिंह धोनी (कप्तान), ड्वेन ब्रावो, रवींद्र जडेजा, दीपक चाहर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर।

मुंबई इंडियंस : क्विंटन डी कॉक, रोहित शर्मा (कप्तान), सूर्यकुमार यादव, इशान किशन, हार्दिक पांड्या, किरोन पोलार्ड, कृणाल पांड्या, जयंत यादव, राहुल चाहर, लसिथ मलिंगा, जसप्रीत बुमराह।