Asian Badminton Championships: एशियन बैडमिंटन चैम्पियनशिप में भारत की पीवी सिंधु को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा है। शनिवार को खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में पीवी सिंधु को शीर्ष वरीयता प्राप्त जापान की अकाने यामागुची से सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा। अकाने ने सिंंधु को 21-13 19-21 16-21 से मात दी। पीवी सिंधु ने पहला गेम अपेक्षाकृत आसानी से जीता, लेकिन याकाने यामागुची ने शानदार वापसी करते हुए जीत हासिल की और एशियाई बैडमिंटन चैंपियनशिप के फाइनल के लिए क्वालीफाई किया।

26 साल की सिंधु को शुरुआती सेट में ज्यादा परेशानी नहीं हुई। उन्होंने शुरुआत में ही बढ़त बना ली थी। मात्र 16 मिनट में भारतीय शटलर ने शुरुआती गेम को समाप्त कर दिया। 2-8 से पिछड़ने के बाद यामागुची प्रतियोगिता में फिर से पैर जमाने में नाकाम रहीं। यामागुची ने गुजरते वक्त के साथ अपने खेल में सुधार जारी रखा और दूसरे गेम में शानदार प्रदर्शन करते हुए 4-1 की महत्वपूर्ण बढ़त बना ली।

सिंधू ने भी चेयर अंपायरों से झगड़े के बाद अपनी एकाग्रता खो दी। सिंधु को यामागुची को शटल देने के लिए कहा गया था, जाहिर तौर पर, सेवा करने में थोड़ा अधिक समय लगने के बाद। यामागुची ने अंततः 17-15 से बराबरी हासिल की, जिसके बाद वह भी बढ़त में चली गई।

राशिद संयुक्त रूप से शीर्ष पर

भारतीय गोल्फर राशिद खान ने सही समय पर शानदार लय हासिल करते हुए एशियाई खेलों के गोल्फ ट्रायल्स में छह अंडर 66 का कार्ड खेला जिससे वह विराज मदप्पा (69) और करणदीप कोचर (67) के साथ संयुक्त बढ़त बनाने में सफल रहे। गोल्फरों ने अब तक चार दौर खेल लिए हैं और एक और दौर खेला जाएगा। युवराज संधू चौथे दिन 66 का कार्ड खेलकर दौड़ में बने हुए हैं। अंतिम स्थान के लिए केवल चार सर्वश्रेष्ठ स्कोर को ही गिना जाएगा। वहीं, महिलाओं के वर्ग में एक स्थान दाव पर है जिसमें अवनी प्रशांत चार दौर के औसत में जाह्नवी बक्शी से एक शाट आगे हैं।

Posted By:

  • Font Size
  • Close