जकार्ता। एशियन गेम्स में मंगलवार को भारत ने एक स्वर्ण, एक रजत और तीन कांस्य सहित कुल पांच पदक जीते, लेकिन दिन भारत के निशानेबाजों के नाम रहा। भारत को 16 वर्ष के उत्तर प्रदेश के निशानेबाज सौरभ चौधरी ने एशियन गेम्स के रिकॉर्ड के साथ 10 मीटर एयर पिस्टल का स्वर्ण दिलाया, जबकि इसी स्पर्धा के कांस्य पर अभिषेक वर्मा ने निशाना साधा। निशानेबाजी में तीसरा पदक 50 मीटर थ्री पोजिशन राइफल स्पर्धा में संजीव राजपूत ने रजत के तौर पर जीता। हालांकि मिक्स्ड ट्रैप स्पर्धा में श्रेयसी सिंह और लक्ष्य की जोड़ी फाइनल में पदक की दौड़ से बाहर हो गई।

कुश्ती में दिव्या का कमाल : महिला पहलवान दिव्या काकरान ने 68 किग्रा भारवर्ग फ्री स्टाइल स्पर्धा में भारत को कांस्य पदक दिलाया। दिव्या ने रेपचेज मुकाबले में चीनी ताइपे की चेन वेनलिंग को 10-0 से मात देकर तकनीकी दक्षता के आधार पर एशियन गेम्स में पदक जीता।

सेपक टकरा में पहला पदक : एशियन गेम्स के इतिहास में भारतीय टीम ने सेपक टकरा में पहली बार कोई पदक हासिल किया। भारतीय टीम ने टीम स्पर्धा में कमाल करते हुए कांस्य पदक जीता। भारत को ग्रुप-बी सेमीफाइनल में थाइलैंड के खिलाफ 0-2 से हार का सामना करना पड़ा, लेकिन इस हार के बावजूद वह कांस्य पदक जीतने में कामयाब रही।

वुशू में पदक पक्का : वुशू की सांडा स्पर्धा में भारत की रोशिबिना ने 60 किग्रा भारवर्ग के सेमीफाइनल में पहुंचकर पदक पक्का कर लिया है। इस स्पर्धा में सेमीफाइनल में हारने वाली दोनों टीमों को कांस्य पदक मिलता है।

0.01 सेकेंड पड़ा भारी : भारत के पुरुष तैराक वीरधवल खाड़े 50 मीटर फ्रीस्टाइल स्पर्धा में सिर्फ 0.01 सेकेंड से पदक से चूक गए और चौथे स्थान पर रहे।

Posted By:

  • Font Size
  • Close