Hima Das: देश की स्टार स्प्रिंटर हिमा दास ने खुद को लेकर एक रोचक खुलासा किया है। इस फर्राटा धाविका ने बताया कि एक समय था जब उन्होंने अपने हाथों से जूतों पर एक बड़ी कंपनी का नाम लिखा था और आज उसी कंपनी ने उन्हें अपना ब्रांड एम्बेसडर बनाया है। बता दें कि हिमा दास देश की शीर्ष तेज धाविकाओं में से एक हैं।

हिमा ने क्रिकेटर सुरेश रैना के साथ इंस्टाग्राम पर हुई चर्चा में खुद को लेकर रोचक बता बताई। हिमा ने बताया - मैंने खेल के दौरान ऐसा समय भी देखा है जब अपने साधारण जूतों पर खुद से एडिडास लिखा था। उन्होंने इसलिए ऐसा किया क्योंकि उनके जूते साधारण थे, जबकि अन्य एथलीट महंगे ब्रांडेड जूतों के साथ ट्रेक पर उतरते थे। इसी शर्मिंदगी से बचने के लिए उन्होंने खेल सामग्री बनाने वाली बड़ी कंपनी एडिडास का नाम अपने जूतों पर लिखा था।हिमा ने बताया - जब वह पहली बार नेशनल में भाग लेने वाली थीं तब उनके पिता ने साधारण स्पाइक वाले जूते खरीदे थे।

कोरोना वायरस महामारी और देशव्यापी लॉकडाउन के कारण हिमा दास इस समय एनआईएस पटियाला में ही फंस गई हैं। 20 साल की इस स्टार धाविका ने बताया- शुरुआत में मैं नंगे पांव दौड़ती थी। पर जब मैं पहली बार नेशनल के लिए सिलेक्ट हुई तब मेरे पिता ने मेरे लिए स्पाइक्स वाले जूते खरीदे थे। ये सामान्य जूते थे। इन जूतों पर पर मैंने खुद से एडिडास लिख दिया था। तब मुझे नहीं पता था कि भविष्य में मैं इसी कंपनी की ब्रांड एम्बेसडर बनूंगी और आज एडिडास कंपनी मेरे नाम के साथ जूते बना रही है।

फिनलैंड में अंडर 20 वर्ल्ड चैंपियनशिप 2018 में 400 मीटर दौड़ की चैंपियन बनीं हिमा दास को जर्मनी की शीर्ष स्पोर्ट्स कंपनी एडिडास ने अपना ब्रांड एम्बेसडर बनाया। कंपनी ने उनकी जरूरत के हिसाब से जूते बनाए, जिसमें एक तरफ उनका नाम और दूसरी तरफ 'इतिहास रचें' लिखा है। बता दें कि हिमा की अंडर 20 वर्ल्ड चैंपियनशिप की ये सफलता ऐतिहासिक है क्योंकि कोई दूसरा भारतीय ये कारनामा नहीं कर पाया।

20 वर्षीय हिमा ने रैना से बातचीत में ये भी बताया कि 2018 के एशियाई खेल उनके जीवन का टर्निंग पॉइंट रहा है। इन खेलों के बाद ही लोगों ने उन्हें पहचानना शुरू किया और उनके खेल में दिलचस्पी लेना शुरू किया। बता दें कि इंडोनेशिया में हुए इन एशियाई खेलों में हिमा ने व्यक्तिगत 400 मीटर में रजत के अलावा महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड और 400 मीटर की मिश्रित बाधा दौड़ में स्वर्ण पदक जीता था।

बहरहाल असम के एक छोटे से गांव से आने वाली हिमा आज देश की स्टार एथलीट है और आज वे देश में एथलेटिक्स की नई पोस्टर गर्ल हैं।

Posted By: Rahul Vavikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags