Kashmiri athlete Danish । आजकल कश्मीरी एथलीट दानिश मंजूर की खुशी का ठिकाना नहीं है। उन्हें यह विश्वास नहीं हो रहा है कि इंटरनेशनल ताइक्वांडो इवेंट में भारत का प्रतिनिधित्व करने का उनका सपना साकार हो गया है। दानिश हाल ही में ओलंपिक-रैंकिंग ताइक्वांडो इवेंट को होस्ट करने वाले प्राचीन इजरायली शहर रमला में पहुंचे हैं।

अपने सपने की प्रतियोगिता में पहुंचने के बाद दानिश ने भारत के अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, कू ऐप का जमकर आभार जताया है कि इसके माध्यम से ही उनकी इच्छा सुनी गई और उन्हें गैर-सरकारी संगठन हेल्प फाउंडेशन से स्पॉन्सरशिप मिली।

दानिश लंबे समय से 58 किग्रा भारवर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करने की ख्वाहिश लिए बैठे थे। लेकिन इस दौरान अपनी यात्रा और वहां रहने के खर्च को पूरा करने के लिए पैसे की कमी के चलते वे काफी हताश थे। काफी ज्यादा परेशान होने के बाद उन्होंने एक और कोशिश की। इसके लिए उन्होंने देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप का इस्तेमाल किया। इस पर दानिश ने हिंदी, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और अंग्रेजी भाषाओं में पूरे भारत तक पहुँचने वाले मंच के अनोखे ट्रांसलेशन फीचर मल्टी-लिंगुअल कू (एमएलके) का इस्तेमाल करते हुए वित्तीय सहायता के लिए मदद मांगी।

उनका यह संदेश कू ऐप पर एक्टिव जम्मू-कश्मीर स्थित हेल्प फाउंडेशन तक पहुंचा और उनकी मुराद पूरी हो गई। यह एनजीओ स्वास्थ्य, शिक्षा, खेल, पुनर्वास आदि में मदद मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है।

यह स्पॉन्सरशिप मिलने के बाद दानिश मंजूर ने अपना आभार व्यक्त करते हुए अपने कू हैंडल से कहा, “मैं @koosportshindi & @KooOfficial का बहुत आभारी हूँ, जिसके माध्यम से मुझे जम्मू-कश्मीर स्थित @help_foundation से ओलंपिक-रैंकिंग ताइक्वांडो इवेंट में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए मदद मिली है, और मैं मेरे कोच, @atul_pangotra महोदय का भी मेरा मार्गदर्शन के लिए धन्यवाद करता हूँ। मैं अभी-अभी इजराइल पहुँचा हूँ और अपने देश को गौरवान्वित करने की पूरी कोशिश करूँगा। कृपया सपोर्ट करते रहें। जय हिन्द।”

Koo App

कश्मीर के बारामूला निवासी दानिश ने कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान घर से ताइक्वांडो का अभ्यास करना शुरू कर दिया। वर्ष 2021 टोकी मेमोरियल ओपन ताइक्वांडो चैम्पियनशिप में उन्हें 'सर्वश्रेष्ठ पुरुष एथलीट' चुना गया और उन्होंने रजत पदक अपने नाम किया।

आज के डिजिटल युग में, सोशल मीडिया को न केवल संकट के वक्त में सपोर्ट हासिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है, बल्कि यह उन लोगों को भी जोड़ता है, जिन्हें संभावित लाभार्थियों के साथ वित्तीय मदद की जरूरत होती है। सभी को एकजुट करने वाले बहुभाषी मंच होने के नाते, कू ने पूरे भारत में लाखों लोगों को आवाज देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिससे वे अपनी मातृभाषा में स्वयं को अभिव्यक्त कर सकें और मशहूर शख्सियतों से जुड़ सकें। दानिश के इस मंच पर 1.22 लाख से अधिक फॉलोअर्स हैं और वह सक्रिय रूप से खेल और संबंधित विषयों से जुड़ी पोस्ट डालकर अभिव्यक्ति करते हैं।

वहीं, दानिश के कू पर रिप्लाई करते हुए हेल्प फाउंडेशन एनजीओ ने अपनी पोस्ट में लिखा, “भारत में एक उभरते सितारे का समर्थन करने से बेहतर हम और क्या कर सकते हैं..✨

इस मंच के लिए @Koosportshindi और @KooOfficial को बहुत-बहुत धन्यवाद, जिसने हमें भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए @danishtkd_ को सपोर्ट करने का अवसर दिया है। ऑल द बेस्ट, दानिश।”

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close