Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक में भारत को छठा मेडल मिल गया है। भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया ने 65 किलोग्राम वर्ग के फ्री स्टाइल कुश्ती में कजाकिस्तान के दौलत नियाजबेकोबा को हरा दिया। पूनिया इस मुकाबले में शुरुआत से हावी रहे। वह 8-0 से कजाकिस्तान पहलवान को हराया। लंदन में एथलिटों ने 6 पदक अपने नाम किए थे। बजरंग के पिता बलवान सिंह ने कहा कि मैं खुशी बयान नहीं कर सकता। मेरे बेटे ने मेरा सपना पूरा कर दिया।

पीएम नरेंद्र मोदी ने दी बधाई

बजरंग पूनिया की जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि टोक्यो 2020 से खुशखबरी। बजरंग पूनिया बेहद शानदार ढंग से लड़े। आपकी इस उपलब्धि के लिए बधाई। इससे हर भारतीय को गर्व और खुशी है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, टोक्यो 2020 में अपनी मेहनत और अद्भुत प्रदर्शन से कांस्य पदक जीतकर देश का नाम रोशन करने वाले बजरंग पूनिया को बधाई। देश के गौरव के लिए आप जिस समर्पण से लड़े वो युवाओं के लिए प्रेरणीय है। आपकी इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर पूरे देश को गर्व है।

भारतीय कुश्ती के लिए खास पल

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंड ने कहा कि भारतीय कुश्ती के लिए खास पल है। बजरंग पूनिया को टोक्यो 2020 में कांस्य पदक जीतने पर बधाई। आपने सालों से अथक प्रयासों, निरंतरता और मेहनत के साथ खुद को शानदार पहलवान के रूप में स्थापित किया। आपकी सफलता की खुशी हर भारतीय साझा करता है।

हरियाणा सरकार ने किया बड़ा ऐलान

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बजरंग पूनिया की जीत पर बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा कि बजरंग ने बहुत अच्छे तरीके से खेला है और कांस्य पदक जीता है। भारत के 2 रजत और 4 कांस्य लेकर कुल 6 पदक हो चुके हैं। इसमे राज्य का योगदान सर्वाधिक है। हमें अभी और भी मेडल मिलने की उम्मीद है। खट्टर ने कहा, 'बजरंग पुनिया को 2.5 करोड़ की राशि नकद दी जाएगी, साथ ही सरकारी नौकरी मिलेगी। एक प्लाट भी उन्हें 50% के कंसेशनन पर मिलेगा। वे झज्जर के खुड्डन गांव के रहने वाले हैं। वहां एक इंडोर स्टेडियम बनाया जाएगा।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close