नई दिल्ली (एजेंसियां)। महिला पहलवान पूजा ढांडा और नवजोत कौर ने सोमवार को लखनऊ में ट्रायल्स के लिए मैट पर उतरे बिना ही विश्व चैंपियनशिप का टिकट हासिल कर लिया। ओलिंपिक भार वर्ग के ट्रायल्स पहले ही हो चुके हैं और दोनों को ही हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन सोमवार को गुए गैर ओलिंपिक वर्ग के ट्रायल्स में पूजा ने 59 किग्रा और नवजोत ने 65 किग्रा भार वर्ग में अपनी-अपनी जगह पक्की की। दोनों को चुनौती देने के लिए कोई पहलवान मौजूद नहीं था।

भारतीय कुश्ती संघ ने अनुशासनहीनता के आरोप में 25 पहलवानों पर प्रतिबंध लगाया है जिसमें से 7 पहलवानों को इन ट्रायल्स में भाग लेना था। 59 और 65 किग्रा भार वर्ग में दावेदारी के लिए कोई अन्य पहलवान मौजूद नहीं था। ओलिंपिक भार वर्ग के ट्रायल्स के 57 किग्रा वर्ग में पूजा को सरिता मोर ने हराया था लेकिन विश्व चैंपियनशिप में उनके पास अब एक और पदक पक्का करने का मौका होगा। पूजा ने पिछले साल विश्व चैंपियनशिप में कांस्य जीता था।

वहीं एशियन चैंपियन नवजोत के पास अब विश्व चैंपियनशिप का पदक जीतने का मौका होगा। वे 68 किग्रा के ट्रायल्स में दिव्या काकरान से हार गई थीं। सोमवार को चार भार वर्गों का ट्रायल्स होना था लेकिन इन सभी का फैसला सिर्फ दो वर्गों के मुकाबलों में ही हो गया।

ललिता ने 55 किग्रा भार वर्ग का टिकट पक्का किया। उन्हे पहले दौर में बाय मिला जिसके बाद उन्होंने मीनाक्षी को 9-1 से करारी शिकस्त दी। मीनाक्षी ने अपने पहले मुकाबले में किरण को 5-0 से पटखनी दी थी। कोमल ने निक्की को 3-2 हराकर 72 किग्रा भार वर्ग में जगह पक्की की। विश्व चैंपियनशिप का आयोजन कजाकिस्तान में 14 से 22 सितंबर तक होगा।

विश्व चैंपियनशिप के लिए भारतीय महिला पहलवानों का दल - सीमा बिस्ला (50 किग्रा), विनेश फोगाट (53 किग्रा), ललिता (55 किग्रा), सरिता मोर (57 किग्रा), पूजा ढांडा (59 किग्रा), साक्षी मलिक (62 किग्रा), नवजोत कौर (65 किग्रा), दिव्या काकरान (68 किग्रा), कोमल (72 किग्रा), किरण (76 किग्रा)।