मेलबर्न। ब्राजील के टेनिस खिलाड़ी Joao Souza पर Match Fixing तथा भ्रष्टाचार की वजह से आजीवन प्रतिबंध लगाया गया है। टेनिस इंटिग्रिटी यूनिट ने सौजा पर दो लाख अमेरिकी डॉलर का जुर्माना भी किया है। वे दुनिया के टॉप 100 खिलाड़ियों में शामिल रह चुके हैं।

टेनिस इंटिग्रिटी यूनिट की जांच में पाया गया कि Joao Souza ने 2015 से 2019 के बीच ब्राजील, मैक्सिको, अमेरिका और चेक गणराज्य में एटीपी चैलेंजर और आईटीएफ फ्यूचर्स इवेंट्स में टेनिस में Match Fixing की। उनकी इस समय विश्व रैंकिंग 742 है। यह खिलाड़ी साल 2015 में 69वें क्रम तक पहुंच गया था। डबल्स वर्ग में 2013 में वह 70वें क्रम तक पहुंच गया था। उसे भ्रष्टाचार में लिप्त पाया गया, इसके अलावा उसने जांच में सहयोग नहीं किया और उसे सबूत मिटाने का दोषी पाया गया। उस पर दूसरे खिलाड़ियों को भी गलत काम की तरफ ढकेलने का आरोप था।

31 साल के Joao Souza को पिछले साल मार्च में जांच का कार्य पूरा होने तक अस्थायी रूप से टेनिस से निलंबित किया गया था। लंदन में 14 जनवरी इस मामले की सुनवाई हुई। इसके बाद इस खिलाड़ी को सजा सुनाई गई। इस खिलाड़ी के टेनिस से जुड़े किसी भी आधिकारिक इवेंट में हिस्सेदारी और उपस्थिति पर रोक लगा दी गई है।

Joao Souza ने 2012 से 2015 के बीच चारों ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट्स में सिंगल्स और डबल्स इवेंट्स में हिस्सेदारी की। Joao Souza ने साल 2016 में लाज्लो डेरे को हराकर कोर्टिना इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट को खिताब हासिल किया था।

Posted By: Kiran Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना