न्यूयॉर्क (एजेंसियां)। शीर्ष वरीयता प्राप्त गत चैंपियन नोवाक जोकोविक कंधे में चोट के चलते साल के अंतिम ग्रैंडस्लेम यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट से बाहर गए। इसी के साथ स्विटजरलैंड के स्टेन वावरिंका क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। वहीं रोजर फेडरर और रूस के पांचवीं वरीयता प्राप्त डेनिल मेदवेदेव भी क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। महिला वर्ग में अमेरिका की सेरेना विलियम्स और यूक्रेन की 5वीं वरीय एलिना स्वितोलिना भी क्वार्टर में पहुंच गई हैं।

पुरुष एकल वर्ग में जोकोविक शुरू से ही वावरिंका के खिलाफ असहज महसूस कर रहे थे। इसके चलते वे पहले दो सेट हार गए। इसके बाद जब कंधे की चोट असहनीय हो गई तो उन्होंने कोर्ट छोड़ने का फैसला किया। इसके बाद 3 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन वावरिंका क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। पिछले पांच में से चार ग्रैंडस्लैम जीत चुके सर्बिया के जोकोविक को बाएं कंधे में चोट लगी थी। वावरिंका ने 2016 यूएस ओपन फाइनल में जोकोविक को हराया था। चौथे दौर के मैच में वावरिंका 6-4, 7-5, 2-1 से आगे चल रहे थे तब जोकोविक ने मैच छोड़ने का फैसला किया।

जोकोविक ने कहा - इस तरह से मैच से हटने से मैं बहुत निराश हूं। बहुत दुख होता है जब आप मैच को बीच में छोड़कर जाते हैं। प्रशंसक मेरी हूटिंग कर रहे हैं तो मैं उन्हें कोई दोष नहीं दूंगा। मैं कोई आखिरी खिलाड़ी नहीं हूं, जो चोटिल हुआ है और इस बड़े टूर्नामेंट से अपना नाम वापस लिया है। कंधे में दर्द अभी भी है।

वहीं वावरिंका ने कहा - मेरे पास उन्हें कोर्ट पर हराने का मौका था। यह मैच खत्म होने का सही तरीका नहीं है। नोवाक चैंपियन खिलाड़ी हैं। मैं अगले दौर में पहुंचकर बहुत खुश हूं।

अन्य मैचों में रोजर फेडरर ने बुल्गारिया के ग्रिगोर दिमित्रोव को हराया। जबकि रूस के पांचवीं वरीयता प्राप्त डेनिल मेदवेदेव पहली बार क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। सिनसिनाटी में खिताब जीतने वाले और मांट्रियल और वाशिंगटन में उप विजेता रहे मेदवेदेव का सामना वावरिंका से होगा। उन्होंने 118वीं रैंकिंग वाले जर्मन क्वालीफायर डोमिनिक कोफर को 3-6, 6-3, 6-2, 7-6 से हराया। 20 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन फेडरर ने बेल्जियम के 15वीं वरीयता प्राप्त डेविड गोफिन को सिर्फ 79 मिनट में 6-2, 6-2, 6-0 से हराकर 13वीं बार अंतिम-आठ में प्रवेश किया। अब उनका सामना 78वीं रैंकिंग वाले दिमित्रोव से होगा, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के 38वीं रैंकिंग वाले एलेक्स डि मिनोर को 7-5, 6-3, 6-4 से हराया।

सेरेना का विजयी अभियान जारी

उधर सेरेना विलियम्स ने रिकॉर्ड 24वें ग्रैंडस्लैम खिताब की ओर कदम बढ़ाते हुए क्वार्टर फाइनल में पहुंच गईं। जबकि फ्रेंच ओपन चैंपियन एश्ले बार्टी और कैरोलिना प्लिस्कोवा हारकर बाहर हो गईं। छह बार की यूएस ओपन विजेता सेरेना ने क्रोएशिया की 22वीं वरीयता प्राप्त पेट्रा मार्टिक को 6-3, 6-4 से हराया। अब उनका सामना चीन की वांग कियांग से होगा, जिन्होंने दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी बार्टी को हराया।

37 साल की सेरेना को दूसरे सेट में मेडिकल टाइमआउट लेना पड़ा, क्योंकि उनके टखने में चोट लग गई थी। आखिरी बार 2017 ऑस्ट्रेलियाई ओपन ग्रैंडस्लैम जीतने वाली सेरेना ने 2014 से यहां खिताब नहीं जीता है। वह पहली बार वांग से खेलेंगी, जिन्होंने बार्टी को 6-2, 6-4 से मात दी। यूक्रेन की पांचवीं वरीयता प्राप्त एलिना स्वितोलिना भी अमेरिका की मेडिसन कीस को 7-5, 6-4 से हराकर क्वार्टर में पहुंच गईं।

बोपन्ना की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त

इधर रोहन बोपन्ना की पुरुष डबल्स और मिक्स्ड डबल्स में हार के साथ ही यूएस ओपन में भारत का अभियान समाप्त हो गया। भारत के शीर्ष रैंकिंग वाले डबल्स खिलाड़ी बोपन्ना और कनाडा के डेनिस शापोवालोव को 15वीं वरीयता प्राप्त ब्रिटेन के नील स्कुपस्की और जैमी मरे ने दूसरे दौर में 6-3, 6-4 से हराया।

मिक्स्ड डबल्स में बोपन्ना और अमेरिका की एबिगेल स्पीयर्स को फ्रांस के फेब्रिस मार्तिन और अमेरिका की रफेल अतावो की जोड़ी ने 7-5, 7-6 से मात दी। लिएंडर पेस और दिविज शरण पहले ही दौर से बाहर हो चुके हैं। सिंगल्स में सुमित नागल और प्रजनेश गुणेश्वरन को पहले दौर में हार झेलनी पड़ी।

Posted By: Rahul Vavikar