टोक्यो। दुनिया के नंबर वन खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए जॉन मिलमैन को हराकर जापान ओपन टेनिस टूर्नामेंट का खिताब हासिल किया। इस मुकाबले के दौरान जोकोविच कंधे की परेशानी से जूझते नजर नहीं आए।

जोकोविच ने फाइनल में मिलमैन को आसानी से 6-3, 6-2 से हराया। जोकोविच को कंधे की चोट के कारण यूएस ओपन से हटना पड़ा था, वे उसके बाद पहली बार किसी टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे थे। मिलमैन ने क्वालीफाइंग राउंड के जरिए टूर्नामेंट के मुख्य दौर में प्रवेश करते हुए फाइनल तक का सफर तय किया था। वे दूसरी बार किसी एटीपी टूर्नामेंट के फाइनल तक पहुंचे थे। जोकोविच ने मिलमैन को मात्र 69 मिनटों में हराकर करियर का 76वां एटीपी टूर खिताब हासिल किया।

जोकोविच पहली बार इस जापानी टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे थे और उन्होंने पूरे सप्ताह शानदार प्रदर्शन किया। वे इस टूर्नामेंट के दौरान एक भी सेट नहीं हारे और उन्होंने खिताब अपने नाम किया। उन्होंने सप्ताह की शुरुआत डबल्स मैच में हिस्सा लेकर की थी। वे इसके बाद मैच दर मैच शानदार प्रदर्शन करते रहे और उन्होंने इस दौरान वर्ल्ड नंबर 15 डेविड गॉफिन को भी हराया।

खिताब जीतने के बाद जोकोविच ने कहा, यह मेरे लिए हर दृष्टि से शानदार सप्ताह रहा। मुझे कोर्ट पर कोई परेशानी नहीं हुई। मुझे कोर्ट के बाहर भी जापानी लोगों से बहुत प्यार मिला। उन्होंने मुझे ऐसा महसूस कराया जैसे मैं अपने घर पर हूं। मैंने बगैर कोई सेट गंवाए यह खिताब जीता और यह कुल मिलाकर शानदार अनुभव रहा। मिलमैन ने कहा कि जोकोविच के खिलाफ कोर्ट पर उतरना ही शानदार अनुभव रहा और उन्हें इस मैच से काफी कुछ सीखने को मिला। जोकोविच अभी काफी साल तक खेलते रहेंगे और कई खिलाड़ियों को प्रेरित करेंगे।


सबसे ज्यादा एटीपी टूर खिताब

109 खिताब जिमी कोनर्स

102 खिताब रॉजर फेडरर

94 खिताब इवान लेंडल

84 खिताब राफेल नडाल

77 खिताब जॉन मैकेनरो

76 खिताब नोवाक जोकोविच

Posted By: Kiran Waikar