नई दिल्ली। भारतीय टेनिस स्टार Sania Mirza ने सोमवार को फेड कप हार्ट अवॉर्ड जीतते हुए इतिहास रच दिया। Sania Mirza को यह पुरस्कार मां बनने के बाद कोर्ट पर शानदार वापसी के लिए दिया गया। उन्हें यह पुरस्कार एशिया-ओसिनिया क्षेत्र के लिए दिया गया। वे यह पुरस्कार हासिल करने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई। Sania Mirza ने इस अवॉर्ड की पुरस्कार राशि Civod-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई के लिए प्रदान करने की घोषणा की।

33 साल की Sania Mirza ने इस साल की शुरुआत में चार साल बाद फेड कप में वापसी की और भारत को इस टूर्नामेंट के इतिहास में पहली बार प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करने में मदद की। इस दौरान उनका 18 महीने का बेटा इजान भी स्टैंड्स में मौजूद था। सानिया की वजह से भारत डबल्स में अपराजित रहा। उन्होंने इंडोनेशिया पर भी डबल्स में भारत को जीत दिलाई और भारत ग्रुप में दूसरे स्थान पर रहा।

Sania Mirza को 16895 में से दस हजार से ज्यादा वोट मिले। फेड कप हार्ट पुरस्कार के विजेता का चयन प्रशंसकों के वोट के आधार पर होता है। इस अवॉर्ड के लिए वोटिंग एक मई से शुरू हुआ थी और सानिया को 60 प्रतिशत मत मिले। सानिया ने कहा, 'फेड कप हार्ट पुरस्कार जीतने वाली पहली भारतीय बनना गर्व की बात है। मैं पूरे देश और अपने फैंस को यह पुरस्कार समर्पित करती हूं। भविष्य में देश के लिए और उपलब्धियां हासिल करने की कोशिश करूंगी।'

सानिया को इस अवॉर्ड के साथ दो हजार डॉलर की इनामी राशि भी मिली जिसे उन्होंने Covid-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई के लिए तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का फैसला किया। उन्होंने कहा, कोरोना वायरस महामारी की वजह से दुनिया इस समय मुश्किल दौर से गुजर रही है। इसके मद्देनजर मैं इस अवॉर्ड के साथ मिलने वाली राशि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के राहत कोष में प्रदान करती हूं।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags