लिंज (एजेंसियां)। अमेरिका की युवा टेनिस खिलाड़ी कोरी गॉफ ने लिंज ओपन टेनिस का खिताब जीत लिया है। फाइनल में येलेना ओस्टापेंको को 6-3, 1-6, 6-2 से हराया। ये गॉफ का पहला डब्ल्यूटीए खिताब है।

15 वर्षीय गॉफ लिंज ओपन के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाई थी लेकिन उन्हें लिंज ओपन के मुख्य ड्रॉ में प्रवेश मिला और उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए खिताब जीता। फाइनल में गॉफ ने 2017 की फ्रेंच ओपन चैंपियन येलेना ओस्टापेंको के खिलाफ तीन सेट तक चले मुकाबले में जोरदार खेल दिखाया। पहला सेट उन्होंने आसानी से जीता, लेकिन दूसरे सेट में येलेना ने अच्छी वापसी करते हुए सेट जीता और स्कोर बराबर कर दिया। तीसरे सेट में गॉफ ने जबर्दस्त खेल दिखाते हुए 5-0 की बढ़त बना ली थी। येलेना ने अगले दो गेम जीतकर वापसी की कोशिश की, लेकिन अगला गेम जीतकर गॉफ ने खिताब पर कब्जा जमा लिया।

गॉफ 2004 में निकोल वैदिसोवा के बाद डब्ल्यूटीए खिताब जीतने वालीं सबसे कम उम्र की खिलाड़ी हैं। जीत से उत्साहित गॉफ ने कहा - मैं इस दिन को ताउम्र याद रखूंगी। मेरे लिए यह सप्ताह शानदार रहा है। मैं आगे भी ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद करती हूं। गॉफ को इस खिताबी जीत का फायदा डब्ल्यूटीए विश्व रैंकिंग में मिलने की संभावना है। गॉफ इस साल विंबलडन और यूएस ओपन में अपनी खेल की वजह से सुर्खियों में आई थीं। मुकाबले के बाद येलेना ओस्टापेंको ने भी गॉफ की जमकर सराहना की।


मेदवेदेव ने जीता शंघाई मास्टर्स का खिताब

शंघाई। जबर्दस्त फॉर्म में चल रहे रूस के युवा टेनिस स्टार डेनिल मेदवेदेव ने रविवार को जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव को एकतरफा मुकाबले में 6-4, 6.1 से हराकर शंघाई मास्टर्स का खिताब जीत लिया। मेदवेदेव का ये लगातार छठा फाइनल था। 23 वर्षीय मेदवेदेव का इस साल में ये चौथा खिताब है। विश्व रैंकिंग में चौथे स्थान पर काबिज मेदवेदेव के लिए 22 वर्षीय ज्वेरेव के खिलाफ पिछले पांच मुकाबलों में यह पहली जीत है। जीत के बाद उन्होंने कहा- मैं कह सकता हूं कि इस सप्ताह मुझे हरा पाना असंभव लग रहा था। हालांकि अगले सप्ताह क्या होगा मैं कुछ नहीं कह सकता। अब मेदवेदेव को मास्को में खेलना है। इस टूर्नामेंट से पहले रूसी खिलाड़ी मेदवेदेव ने यूएस ओपन के फाइनल तक का सफर तय किया था। ज्वेरेव और मेदवेदेव को आगे वाले भविष्य के सितारों के तौर पर देखा जा रहा है।

Posted By: Rahul Vavikar

fantasy cricket
fantasy cricket