लंदन (एजेंसी)। विश्व के नंबर एक सर्बिया के नोवाक जोकोविच को साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट विम्बल्डन में पहली वरीयता दी गई है। वहीं रोजर फेडरर को दूसरी और स्पेनिश खिलाड़ी राफेल नडाल को तीसरी वरीयता मिली है। नडाल इस समय विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी हैं, लेकिन उन्हें विश्व के तीसरे नंबर के खिलाड़ी स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर से एक स्थान नीचे की वरीयता मिली है। बुधवार को इस टेनिस टूर्नामेंट के लिए खिलाड़ियों की वरीयता का एलान किया गया।

बता दें कि विम्बल्डन की वरीयता प्रक्रिया बाकी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट से अलग होती है। नडाल ने मंगलवार को ही विम्बल्डन की वरीयता प्रक्रिया की आलोचना की थी। दरअसल विम्बल्डन की वरीयता में ग्रास कोर्ट पर हालिया दौर का प्रदर्शन देखा जाता है।

इस वरीयता के बाद ये संभावना बढ़ गई है कि वे जोकोविच के साथ एक ही हाफ में उतरें, ऐसे में इन दोनों खिलाड़ियों का सामना सेमीफाइनल में हो सकता है। पिछले साल फाइनल में पहुंचने वाले दक्षिण अफ्रीका के केविन एंडरसन को चौथी वरीयता मिली है। विश्व रैंकिंग में वे आठवें स्थान पर हैं। उनके ऊपर आने से ऑस्ट्रिया को डॉमिनिक थिएम, जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव और ग्रीस के स्टीफानो सितसिपास नीचे आ गए हैं। इन्हें क्रमशः पांचवीं, छठी, सातवीं वरीयता मिली है।

महिलाओं में ज्यादा परिवर्तन नहीं हुआ है और रैंकिंग के हिसाब से वरीयता तय हुई हैं। सेरेना विलियम्स को 11वीं और जोहाना कोंटा को 19वीं वरीयता मिली है। हाल ही में फ्रेंच ओपन जीतने वाली ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी को पहली वरीयता, जबकि जापान की नाओमी ओसाका को दूसरी वरीयता मिली है। गत विजेता जर्मनी की एंजेलिक कर्बर को पांचवीं वरीयता मिली। बार्टी पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम में पहली वरीयता के साथ उतरेंगी।

रामकुमार विम्बल्डन क्वालीफायर से बाहर

भारत के रामकुमार रामनाथन फिर से ग्रैंड स्लैम मुख्य ड्रॉ की बाधा पार करने में असफल रहे। उन्हें विम्बल्डन की पुरुष एकल क्वालीफाइंग स्पर्धा के दूसरे दौर में पोलैंड के कामिल माजचारजाक से पराजय का मुंह देखना पड़ा। गैर वरीयता प्राप्त भारतीय खिलाड़ी को एक घंटे 19 मिनट तक चले मुकाबले में 11वें वरीय और दुनिया के 111 रैंकिंग के खिलाड़ी से 6-7, 3-6 से हार मिली। चेन्नई के 24 वर्षीय रामकुमार 2015 के बाद से ही ग्रैंड स्लैम के मुख्य ड्रॉ में क्वालीफाई करने की कोशिश में जुटे हैं, लेकिन अभी तक नाकाम रहे हैं। क्वालीफाइंग में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2018 में रहा था जब वह ऑस्ट्रेलियन ओपन के तीसरे व अंतिम क्वालीफाइंग दौर तक पहुंचे थे।