शेनजेन (चीन)। दो बार की ग्रैंड स्लैम विजेता जापान की नाओमी ओसाका कंधे की चोट के कारण मंगलवार को सत्र के आखिरी टूर्नामेंट डब्ल्यूटीए फाइनल्स से हट गईं। इस बात की जानकारी टूर्नामेंट के आयोजकों ने मंगलवार को दी। यह लगातार दूसरा वर्ष है कि जब चोटिल होने के कारण ओसाका को इस टूर्नामेंट से हटना पड़ा।

पिछले साल मांसपेशियों में खिंचाव के कारण उन्हें इस टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा था। दुनिया की नंबर तीन खिलाड़ी ओसाका को रेड ग्रुप में मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी से भिड़ना था, लेकिन अब उनके हटने से नीदरलैंड्स की किकी बर्टेंस को मौका मिल गया।

चोट की वजह से डब्ल्यूटीए फाइनल्स से हटने पर निराशा जाहिर करते हुए ओसाका ने कहा- मैं फाइनल्स से हटकर निराश हूं। शेनजेन में होने वाला यह शानदार और डब्ल्यूटीए का सबसे बड़ा टूर्नामेंट है। मैं इस तरह से इस टूर्नामेंट और सत्र का अंत नहीं करना चाहती थी। उम्मीद है कि अगले साल मैं फिट रहूंगी और यहां शेनजेन में सभी मैच खेलूंगी। ओसाका ने इस राउंड रॉबिन टूर्नामेंट में रविवार को चेक गणराज्य की पेत्रा क्वितोवा को 7-6, 4-6, 6-4 से हराकर अपने अभियान की शुरुआत की थी।

पेरिस मास्टर्स में सोंगा आगे बढ़े

पेरिस। फ्रांस के अनुभवी टेनिस स्टार विल्फ्रेड सोंगा पेरिस मास्टर्स के दूसरे दौर में पहुंच गए हैं। 2008 में पेरिस मास्टर्स जीतने वाले फ्रांस के अंतिम खिलाड़ी रहे सोंगा ने रूस के आंद्रे रूबलेव को एक सेट से पिछड़ने के बाद 4-6, 7-5, 6-4 से हराया।

34 वर्षीय सोंगा ने इस मुकाबले के निर्णायक सेट में चार बार मैच प्वाइंट बचाए। उनके अलावा जेरेमी चार्डी और पेनोइट पियरे ने भी अगले दौर में जगह बनाकर अपने घरेलू प्रशंसकों को जश्न मनाने के मौके दिए। चार्डी ने अमेरिका के सैम क्वेरी को 5-7, 6-3, 7-5 से हराया, जबकि पियरे ने बोस्निया के डेमिर जुमहूर को 7-5, 6-4 से शिकस्त दी। वहीं, क्रोएशिया के बोर्ना कोरिक को फर्नांडो वर्डास्को ने 3-6, 6-4, 6-3 से हराया। इससे पहले क्रोएशिया के मारिन सिलिक और कनाडा के मिलोस राओनिक ने पेरिस मास्टर्स में जीत के साथ शुरुआत की।

Posted By: Rahul Vavikar