मिड डे, मुंबई। मुंबई विश्वविद्यालय के डिस्टेंट और ओपन लर्निंग इंस्टीट्यूट की एमए की राजनीति शास्त्र (पोलिटिकल साइंस) की किताब में कई आपत्तिजनक जानकारियां छात्रों को पढ़ाई जा रही हैं। इसमें लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक को सेक्युलर विरोधी बताया गया है।

राष्ट्रीय आंदोलन में महात्मा गांधी के योगदान को दुर्भाग्यपूर्ण और भारत के बंटवारे के जिन्ना के फैसले को तार्किक ठहराया जा रहा है। साथ ही वामपंथी दलों को छोड़कर अन्य पार्टियों को सांप्रदायिक बताया गया है।

परास्नातक (एमए) की इस किताब का शीर्षक "मार्डन इंडियन पॉलिटिकल थॉट" है। इस किताब में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर कोई अध्याय नहीं है। लेकिन वाम दलों के नेताओं पर कई अध्याय हैं।

इसमें तिलक के बारे में बताया गया है कि उन्होंने गणेश उत्सव की शुरूआत की थी। उन्होंने धर्म और राजनीति का घालमेल किया इसलिए वह धर्मनिरपेक्ष विरोधी हैं। वहीं किताब में महात्मा गांधी के बारे में लिखा है कि उनके हिंदुओं के प्रति झुकाव ने जिन्ना को इतना गुस्सा दिलाया कि वह नासिर्फ कांग्रेस बल्कि देश छोड़ने को भी तैयार हो गए।

वहीं जिन्ना के विषय में कहा गया है कि एक सच्चे राष्ट्रवादी और सेक्युलर नेता को राष्ट्रवादी आंदोलन को छोड़ना पड़ा। गांधी और कायदे आजम के बीच हुई अहंकार की लड़ाई में जिन्ना को पाकिस्तान बनाने की जिम्मेदारी लेनी पड़ी।

मुंबई विश्वविद्यालय के नागरिक और राजनीति शास्त्र के प्रमुख सुरेंद्र जोधाले ने दावा किया कि इस किताब की विषय सामग्री को लेखकों के एक दल ने तैयार किया है। इसका संकलन बाद में उन्होंने किया। उनका कहना है कि यह पाठ्यक्रम का एक संकेत भर है। छात्रों को इस पर पूरी तरह से निर्भर नहीं होना चाहिए।

दूसरी ओर, तिलक की पांचवीं पीढ़ी के सदस्य और केसरी के महाप्रबंधक रोहित तिलक ने कहा कि किसी किताब में सच का प्रकाश होना चाहिए नाकि किसी एक व्यक्ति के विचार को पढ़ाया जाए।

उन्होंने कहा कि तिलक को कभी भी मुस्लिम विरोधी नहीं कहा जा सकता है क्योंकि उनके अंतिम संस्कार के समय एक मुसलमान उनकी चिता पर कूद गया था। जब उन्होंने स्वदेशी आंदोलन शुरू किया था तब हर धर्म के लोग उनके साथ थे।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020