गेमिंग कॉन्टेंट और मार्केटिंग में अग्रणी फर्म, ट्रिनिटी गेमिंग इंडिया ने एक टैलेंट हंट और गेमर ऑनबोर्डिंग प्रोग्राम लॉन्च करने की घोषणा की। 'नेक्स्ट लेवल' नाम का उक्त आयोजन फेसबुक गेमिंग के साथ साझेदारी में किया जा रहा है। इसे पंजाब, राजस्थान और गुजरात के विभिन्न शहरों में अपार सफलता और प्रतिक्रिया हासिल हुई है, जिससे प्रेरित होकर प्रोग्राम के पाँचवे चरण का आयोजन 14 सितंबर, 2022 को सेज यूनिवर्सिटी, इंदौर में किया जाएगा। यह प्रोग्राम कॉलेज स्तर के गेमिंग एंथुज़ियास्ट्स को भविष्य की रेवेन्यू स्ट्रीम्स और करियर्स की संभावना के साथ प्रोफेशनल गेमर्स बनाने में योगदान देगा। 5 सितंबर से शुरू हुए 'नेक्स्ट लेवल' प्रोग्राम का संचालन अगले तीन महीनों में 2 दिसंबर, 2022 तक 24 शहरों में किए जाने की योजना है।

इंदौर प्रोग्राम के तहत सेज यूनिवर्सिटी में दिन भर इवेंट्स किए जाएँगे, जो स्टूडेंट्स को गेमिंग में करियर स्थापित करने के लिए प्रशिक्षण और सलाह देने पर केंद्रित होंगे। इस इवेंट में ऐसी गतिविधियों को शामिल किया गया है, जिनके माध्यम से स्टूडेंट्स प्रोफेशनल गेमर्स और इन्फ्लुएंसर्स के साथ मंच साझा करके गेमिंग और स्ट्रीमिंग का रोमांचक अनुभव कर सकेंगे। स्टूडेंट्स को ऑन बोर्ड आने, गेम्स खेलने और करियर की संभावनाओं के प्रति जागरूक करने के लिए एक विशेष ब्रांडेड कैंटर तैयार किया गया है। 5 सितंबर को अपनी यात्रा शुरू करते हुए इस कैंटर ने जालंधर, चंडीगढ़, जयपुर, बड़ौदा को कवर किया और 1850 किलोमीटर की सफल यात्रा की। यह प्रोग्राम का पहला चरण था। अब यह कारवां 14 सितंबर को इंदौर पहुँचेगा और कुल मिलाकर 13,810 किलोमीटर की सार्थक यात्रा करेगा। कैंटर, पीसी और सभी स्ट्रीमिंग उपकरण से लैस है। इन्फ्लुएंसर्स न सिर्फ स्टूडेंट्स के साथ सफल करियर के अपने अनुभव साझा करेंगे, बल्कि गेमिंग स्पेस में भविष्य की संभावनाओं के बारे में भी बात करेंगे।

इवेंट एक ओपन क्वेश्चन-आंसर सेशन के साथ संपन्न होगा, जिसके चलते स्टूडेंट्स अपने करियर विकल्पों और गेमिंग में अवसरों के बारे में सवाल कर सकते हैं। यह इवेंट लोकप्रिय और सफल गेमिंग के रूप में उभरकर सामने आएगा। इस दौरान नॉन-गेमिंग इंस्टाग्राम इन्फ्लुएंसर्स, स्टूडेंट्स द्वारा पूछे जाने वाले सवालों के जवाब देने के लिए उपस्थित होंगे। इतना ही नहीं, स्टूडेंट्स को लोकप्रिय और प्रसिद्ध गेमिंग क्रिएटर्स के साथ बातचीत करने का भी अवसर मिलेगा, जिन्होंने फेसबुक गेमिंग पर सफल करियर स्थापित किया है। रॉयलएन गेमिंग आदि इसमें मुख्य रूप से शामिल हैं।

ट्रिनिटी गेमिंग इंडिया पहले से ही 4 करोड़ गेमर्स कम्युनिटी के साथ काम करता है, और अब इस पहल के साथ नई प्रतिभाओं को सामने लाने का काम करेगा। ट्रिनिटी गेमिंग इंडिया का उद्देश्य गेमिंग कॉन्टेंट क्रिएशन में एक सफल और सार्थक करियर स्थापित करने में भारतीय युवाओं का समर्थन करना है। 'नेक्स्ट लेवल' प्रोग्राम को इस तरह से डिज़ाइन किया गया है कि गेमिंग एंथुज़ियास्ट्स और यहाँ तक कि बिगिनर्स आय अर्जित करने के लिए सही स्किल सेट और मार्केट विजिबिलिटी हासिल कर सकें। भारतीय गेमिंग क्षेत्र में शामिल होने के लिए स्टूडेंट्स को 'नेक्स्ट लेवल' के साथ ऑनबोर्ड होने के बाद फॉर्मल ट्रेनिंग लेना होगी।

रॉयलएन गेमिंग ने कहा, "हम ट्रिनिटी गेमिंग इंडिया के बहुत आभारी हैं, जो गेमिंग इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए शहर में इस तरह का अनूठा इवेंट आयोजित कर रहा है। भारत का पहला गेमिंग ट्रक न केवल गेमर्स को आकर्षित करेगा, बल्कि लोगों को भी इस पहल से अवगत कराएगा। हम स्टूडेंट्स से रूबरू होने और उनकी प्रेरणा बनने के लिए बहुत रोमांचित हैं।"

अभिषेक अग्रवाल, को-फाउंडर, ट्रिनिटी गेमिंग इंडिया ने कहा, ""हम ट्रिनिटी गेमिंग द्वारा 'नेक्स्ट लेवल' पहल का आगाज़ करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। यह प्रोग्राम गेमिंग क्षेत्र में 'भारत' की गेमिंग प्रतिभाओं को अत्यधिक सफल प्रोफेशनल करियर की नींव रखने में मदद करेगा। अपनी अत्याधुनिक मूवेबल गेमिंग सुविधा के साथ हम 'गेमिंग कैंटर' को 24 शहरों और 33 कॉलेजेस में ले जाते हुए, उभरते हुए सितारों को गेमिंग की दुनिया में बेहतर अनुभव देने के लिए तत्पर हैं। हमारा समग्र उद्देश्य गेमिंग इंडस्ट्री के बारे में जागरूकता पैदा करना है, और स्टूडेंट्स, पेरेंट्स और टीचर्स को इसके प्रति जागरूक करना है कि इस जुनून को एक प्रोफेशन में कैसे तब्दील किया जा सकता है।"

शिवम राव, को-फाउंडर, ट्रिनिटी गेमिंग इंडिया ने कहा, "हम प्रोग्राम्स को चार शहरों में सफलतापूर्वक होस्ट करने में सक्षम रहे हैं। इससे प्रेरित होकर हम नए गेमिंग कॉन्टेंट क्रिएटर्स का मार्ग प्रशस्त करने के उद्देश्य से बड़ौदा में भी इसे शुरू करने जा रहे हैं। इस इवेंट के माध्यम से, हम गेमिंग क्षेत्र में करियर स्थापित करने के तरीकों से एंथुज़ियास्ट्स को अवगत कराएँगे। साथ ही इस बात पर भी ध्यान केंद्रित करेंगे कि कैसे गेमर्स गेमिंग के जरिए आय अर्जित कर सकते हैं। इस पहल के माध्यम से, हम न केवल प्रतिभाशाली स्टूडेंट्स का मार्गदर्शन करेंगे, बल्कि उन्हें व्यावहारिक अनुभव देने के साथ गेमिंग की दुनिया से भी रूबरू कराएँगे।"

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close