3 मई 2022: मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ के लिए टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई ने मोबाइल ग्राहकों के आंकड़े जारी कर दिए हैं। टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई हर महीने एक्टिव मोबाइल ग्राहक यानि विजिटर लोकेशन रजिस्टर (वीएलआर) आधारित ग्राहकों का डेटा जारी करता है। ये ऐसे ग्राहक होते हैं जो मोबाइल फोन नेटवर्क का उपयोग एक्टिव तौर पर करते हैं। ट्राई के आंकड़ों के मुताबिक फरवरी 2022 में मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ सर्किल में कुल 6.9 करोड़ लाख एक्टिव मोबाइल ग्राहक हैं। सर्किल में फरवरी 2022 में कुल 24 लाख नए एक्टिव ग्राहक जुड़े हैं। मार्केट शेयर के हिसाब से देखें तो जियो मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ सर्किल में 50.4 फीसदी मार्केट पर कब्जा कर चुकी है। वहीं वोडाफोन आइडिया की हिस्सेदारी 24.2 फीसदी, एयरटेल की हिस्सेदारी 21.4 और बीएसएनएल की 4 फीसदी हिस्सेदारी है।

ट्राई के जारी आंकड़ों के मुताबिक फरवरी 2022 में मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ सर्किल में जियो ने 24.3 लाख एक्टिव ग्राहक जोड़े। सर्किल में जियो के एक्टिव ग्राहकों की संख्या 3.48 करोड़ हो चुकी है। फरवरी में एयरटेल के 30 हजार एक्टिव मोबाइल ग्राहक घटकर 1.47 करोड़ हो गए हैं। वोडाफोन आइडिया के भी 1 लाख एक्टिव ग्राहक घटकर 1.66 करोड़ हो गए हैं। वहीं सरकारी कंपनी बीएसएनएल के फरवरी में 92 हजार एक्टिव मोबाइल ग्राहक बढ़कर कुल 27.9 लाख ग्राहक हो गए हैं।

मप्र-छग में ब्रॉडबैंड ग्राहक 10 लाख के पार

मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ में वायरलाइन ब्रॉडबैंड ग्राहकों की संख्या 10 लाख के पार पहुंच गई है। सर्किल में कुल 10.12 लाख वायरलाइन ब्रॉडबैंड ग्राहक हैं। ब्रॉडबैंड और वायरलाइन कनेक्शन में रिलायंस जियो ने अब एयरटेल को पीछे छोड़ दिया है। जियो वायरलाइन ब्रॉडबैंड कनेक्शन के मामले में जियो मप्र-छग में पहले स्थान पर पहुंच गई है।

फरवरी में जियो ने 17.6 हजार जियो फाइबर कनेक्शन जोड़े हैं। जियो के कुल 3.51 लाख फाइबर ग्राहक हो गए हैं। एयरटेल 5.3 हजार ग्राहक जोड़कर 3.50 लाख ग्राहकों के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। वहीं वोडा आइडिया ने 1.03 हजार और बीएसएनएल ने 3.12 हजार ब्रॉडबैंड कनेक्शन जोड़े।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close