5G Auction: डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन ने 5जी स्पेक्ट्रम के लिए बोली लगाने वाली कंपनियों की सूची जारी कर दी है। इसके मुताबिक रिलायंस जियो ने 14 हजार करोड़ रुपए अर्नेस्ट मनी जमा किया है। भारती एयरटेल ने 5,500 करोड़ रुपए ईएमडी जमा किया है। वोडाफोन आइडिया ने 2200 करोड़ रुपए डिपॉजिट किया है। वहीं अडानी डाटा नेटवर्क्स ने 100 करोड़ रुपए जमा किया है। फिलहाल जियो देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। यह रिलायंस इंडस्ट्रीज की टेलीकॉम इकाई है। अडानी डाटा नेटवर्क्स ने बीते दिनों 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में बोली लगाने की घोषणा की थी।

टेलीकॉम कंपनियों ने एप्लिकेशन फीस के लिए 1,00,000 रुपए का भुगतान किया है। 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी 26 जुलाई से शुरू होगी। ईएमडी की रकम से स्पेक्ट्रम हासिल करने में कंपनियों की रणनीति और प्लान का पता चलता है। 14,000 करोड़ रुपए की ईएमडी के साथ रिलायंस जियो का ऑक्शन में 1,59,830 प्वॉइंट्स दिए गए हैं। यह बोली लगाने वाली अन्य कंपनियों में सबसे अधिक है। एयरटेल को 66,330 एलिजिबिलिटी प्वॉइंट्स मिले हैं।

वहीं वोडाफोन को 29,370 एलिजिबिलिटी प्वॉइंट्स मिले हैं। अडानी डाटा नेटवर्क्स को 1650 एलिजिबिलिटी प्वॉइंट्स मिले हैं। 26 जुलाई को होने वाले ऑक्शन में 72 गीगाहर्ट्स स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी। इसकी कीमत करीब 4.3 लाख करोड़ रुपए होगी। सरकार को इस नीलामी से 80 हजार से एक लाख करोड़ तक कमाई हो सकती है।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close