मल्टीमीडिया डेस्क। अक्सर लोगों के पास आधार कार्ड का डिजिटल वर्जन नहीं होता और वो इसे पाने के लिए किसी कम्प्यूटर सेंटर या सायबर कैफे से इसे डाइनलोड करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सायबर कैफे से इस तरह आधार डाउनलोड करना आपको मुश्किल में डाल सकता है। हालांकि, इससे बचा भी जा सकता है और हम आपको बताएंगे कैसे।

दरअसल, UIDAI ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर लोगों के लिए अलर्ट जारी किया है कि अगर वो किसी पब्लिक कम्प्यूटर सेंटर या साइबर कैफे से आधार कार्ड डानलोड करते हैं तो सावधान रहें। इसमें यह भी कहा गया है कि वो किसी अन्य जगह की बजाय आधार की आधिकारिक वेबसाइट eaadhaar.uidiai.gov.in से ही अपना कार्ड डाउनलोड करें।

इन बातों का रखें ध्यान

UIDAI ने ट्वीट कर बताया है कि अगर आप किसी पब्लिक कम्प्यूटर से अपना आधार कार्ड डाउनलोड करते हैं तो सावधानी के साथ करें तथा कुछ बातों का ध्यान रखें जिससे परेशानी ना हो।

- इसमें कहा गया है कि जैसे ही डाउनलोड किए गए आधार कार्ड का आप प्रिंट आउट ले लेते हैं तो इसे तुरंत ही उस कम्प्यूटर से डिलीट कर दें।

- कंप्यूटर स्क्रिन या डाउनलोड से फाइल डिलीट करने के बाद फाइल रिसाइकिल बिन में चली जाती है. फाइल को किसी सिस्टम से परमानेंटली डिलीट करने के लिए उसे रिसाइकिल बिन में जाकर एक और बार डिलीट करना होता है।

- अगर आपने उसे रिसायकल बिन से नहीं डिलीट किया तो वो कम्प्यूटर में बनी रहती है।

- इस छोटी सी सावधानी का पालन करते हुए आप अपने आधार कार्ड को सुरक्षित रखते हुए उसके दुरुपयोग को रोक सकते हैं।

Posted By: Ajay Barve