एप्पल (Apple) वाहनों के लिए अपने कारप्ले (CarPlay) इंटरफेस के माध्यम से पेश की जाने वाली सुविधाओं का विस्तार करने की योजना बना रहा है। जो गाड़ी मालिक को म्यूजिक, नेविगेशन जैसे कार्यों को कंट्रोल करने और फोन कॉल करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार कंपनी ऐसे फीचर जोड़ने की कोशिश कर रही है। जिससे यूजर्स आईफोन में क्लाइमेंट नियंत्रण, स्पीडोमीटर रेडियो और सीटो को कंट्रोल कर सकेंगे।

प्रारंभिक स्टेज पर चल रहा काम

रिपोर्ट के अनुसार आतंरिक रूप से 'आयरनहार्ट' (IronHeart) नामक प्रोजेक्ट अभी अपने प्रारंभिक स्टेज में है। वह वाहन निर्माताओं के सहयोग से सफल होगी। ड्राइवर अंदर और बाहर के तापमान, डीफ्रॉस्टर सिस्टम,साउंड स्पीकर, इक्वलाइज़र, ट्वीटर, सबवूफर्स, कंट्रोल सीट और आर्मरेस्ट, स्पीडोमीटर, टैकोमीटर और फ्यूल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर को कंट्रोल करने दे सकता है।

600 से अधिक मॉडल का हिस्सा

एप्पल कारप्ले दुनिया में 600 से अधिक कार मॉडल का हिस्सा है। यह संभावना है कि कार निर्माता कार डैशबोर्ड का पूरा कंट्रोस एप्पल पर छोड़ दें। लेकिन एप्पल और ऑटोमोबाइल कंपनियों के लिए कारप्ले के अगले वेरिएंट के फीचर्स पर कार्य करने के लिए सुविधानजनक होना जरूरी है। अगर कार कंपनियां अपने गाड़ियों के डैशबोर्ड में कंट्रोल बनाए रखेंगी। वह स्मार्टफोन कंपनी कारप्ले को दूसरी चीजों को कंट्रोल करने की अनुमति देगी। एप्पल की अपनी और इलेक्ट्रिक कार की योजनाओं को कई असफलताओं का सामना करना पड़ा है। अभी भी वास्तविकता से बहुत दूर है। कंपनी अपने कारप्ले सिस्टम के साथ ऑटो उद्योग में प्रवेश करना जारी रखे हुए है।

Posted By: Shailendra Kumar