प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा Covid-19 महामारी से मुकाबले के लिए लॉन्च किए गए विशेष कोष 'पीएम केयर्स' PM Cares में लोग अपनी क्षमता के अनुसार दान कर रहे हैं। इस रकम का उपयोग कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में किया जाएगा। अगर आप भी इसमें अपनी क्षमता के अनुसार दान करना चाहते हैं तो जरूर करें लेकिन थोड़ी सतर्कता के साथ नहीं तो आपका पूरा बैंक खाली हो जाएगा। यह सच है, कोरोना वायरल के नाम पर इन दिनों ऑनलाइन ठगी के कई मामले बढ़े हैं। ऐसे में यह जरूरी है कि आप जो भी रकम दान करे वो सही जगह पहुंचे।

ऑनलाइन दान करने वालों को फर्जी लिंक के माध्यम से जालसाज धोखा दे रहे हैं और ऐसी कई घटनाएं सामने आई हैं। अकेले महाराष्ट्र में ही साइबर पुलिस ने 78 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। हैदराबाद पुलिस की साइबर अपराध शाखा ने भी जाली यूपीआई आइडी तैयार कर ठगी करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

इस बात का रखें खास ध्यान

अगर आप भी PM cares में दान करने जा रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें की आपका दान सही खाते में जाए। हम आपको बता दें कि PM Cares में UPI के माध्यम से दान करने का सिर्फ एक ही ID है और वो है ‘pmcares@sbi’। यह आईडी सरकार द्वारा जारी किया गया है और इसके अलावा अगर आपको कोई किसी अन्य आईडी पर UPI से पेमेंट करने के लिए प्रेरित करता है तो सावधान हो जाएं।

ठगों ने बनाए हैं फर्जी आईडी

सरकार के साइबर सेक्योरिटी नियामक CERT-IN ने लोगों से कहा है कि साइबर ठगों ने पंजाब नेशनल बैंक Punjab National Bank (PNB), HDFC Bank, ICICIBank और Yes Bank पर फर्जी यूपीआइ आईडी बना लिए हैं। विभिन्न बैंकों के साथ ये आईडी ‘pmcare’ और ‘pmcares’ नाम से जारी किए गए हैं, जिनसे दानदाता अक्सर धोखा खा जाते हैं। CERT-IN के मुताबिक सरकार ने जो राहत फंड गठित किया है, उसके लिए सिर्फ ‘pmcares@sbi’ नामक यूपीआई आईडी ही सही है। यहां तक की pmcare@sbi भी फर्जी है, असली और फर्जी आईजी में अंग्रेजी के s अक्षर का फर्क है। असली आईडी में pmcares@sbi लिखा है।

ये सब आईडी हैं फर्जी

pmcare@sbi, pmcares@pnb, pmcares@hdfcbank, pmcare@yesbank, pmcare@ybl, pmcare@upi, pmcare@icici

रजिस्टर्ड नाम का रखें ध्यान

नियामक ने साथ ही दान देने वालों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि वे कोरोना से लड़ाई के लिए पैसे ट्रांसफर करते समय एक और बात का ध्यान रखें। CERT-IN ने लोगों से कहा है कि रकम ट्रांसफर करते समय यह सुनिश्चित कर लें कि रजिस्टर्ड अकाउंट नेम के साथ पर 'PM Cares' ही दिखाई देता हो। अगर यूपीआइ आइडी के साथ कोई अन्य रजिस्टर्ड नाम दिखता है तो इसका मतलब है कि वह आइडी फर्जी है। उल्लेखनीय है कि पूरा विश्व कोरोना नाम की महामारी से जूझ रहा है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना