गूगल ने बीते माह अगस्‍त में भारत से बड़ी संख्‍या में कंटेट को रिमूव कर दिया है। असल में गूगल को कई शिकायतें मिलीं थीं, जिसके बाद कंपनी ने 93,550 सामग्री को हटा दिया। अपनी मासिक पारदर्शिता रिपोर्ट में गूगल ने कहा है कि अगस्त में उसे उपभोक्ताओं की ओर से 35,191 शिकायतें मिलीं। इन शिकायतों के आधार पर उसने कंपनी ने कहा कि उपभोक्ताओं से मिली रिपोर्टों के आधार पर उसने अगस्त में स्वचालित पहचान के परिणामस्वरूप सामग्री को हटा दिया। गूगल ने यह भी कहा कि जब हमें अपने प्लेटफॉर्म पर सामग्री के संबंध में शिकायतें मिलती हैं, तो हम उनका सावधानीपूर्वक आकलन करते हैं। कंपनी ने ये खुलासे 26 मई को लागू हुए भारत के आईटी नियमों के अनुपालन के हिस्से के रूप में किए हैं। रिपोर्टों के अनुसार, ये पंजीकृत शिकायतें थर्ड पार्टी से संबंधित हैं, जिनके बारे में माना जाता है कि यह स्थानीय कानूनों या व्यक्तिगत अधिकारों का उल्लंघन करती हैं।

36,934 शिकायतें मिली थीं

गूगल ने बताया कि जुलाई में उसे उपभोक्ताओं की ओर से 36,934 शिकायतें मिली थीं। इसके आधार पर उसने 95,680 सामग्री को हटाया था। इसके अलावा उसने जुलाई में स्वचालित पहचान के आधार पर 5,76,892 सामग्री को हटाया था। गूगल ने कहा कि जब हमें अपने प्लेटफॉर्म पर सामग्री के संबंध में शिकायतें मिलती हैं, तो हम उनका सावधानीपूर्वक आकलन करते हैं। अमेरिका स्थित कंपनी ने भारत के आइटी नियमों के अनुपालन के तहत यह जानकारी सार्वजनिक की है। गूगल ने अपनी हालिया रिपोर्ट में कहा कि इन सामग्री का संबंध तीसरे पक्ष से है। माना जाता है कि इन सामग्री से स्थानीय नियमों और इंटरनेट मीडिया मध्यस्थ प्लेटफार्मों का उल्लंघन होता है।

Posted By: Navodit Saktawat