मल्टमीडिया डेस्क। वैसे तो व्हाट्सएप ग्रुप्स में हर यूजर जुड़ा होता है लेकिन कई बार कुछ ग्रुप्स ऐसे होते हैं जिनका वो हिस्सा नहीं बनना चाहता। उस ग्रुप को बनाने वाला एडमिन बिना कहे ही यूजर को अपने ग्रुप में शामिल कर लेता है और कई बार ग्रुप से बाहर के होने के बाद यूजर को फिर जोड़ लिया जाता है। अगर आप भी ऐसी ही परेशानी से जूझ रहे हैं तो सरकार आपकी मददे के लिए आगे आई है।

खबरों के अनुसार सरकार ने व्हाट्सएप से अपील की है कि वो ऐप में ऐसा फीचर जोड़े जो किसी भी ग्रुप में जोड़े जाने से पहले यूजर की परमिशन ले। सरकार ने यह अपील तब की है जब लगातार इस बात की शिकायतें मिल रही थीं कि लोगों को बिना उनकी अनुमति के उन्हें अनजाने ग्रुप्स में बारबार जोड़ा जा रहा है।

एक अंग्रेजी अखबार ने सरकारी अधिकारी के हवाले दी खबर में कहा है कि इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय को कुछ एजेंसियों ने इस बाबत प्रेजेंटेशन दिया है और इसके बाद मंत्रालय ने यह मुद्दा व्हाट्सएप के सामने उठाया है।

खबर के अनुसार मंत्रालय ने व्हाट्सएप को लिखे पत्र में कहा है कि जिस भी यूजर को ग्रुप में जोड़ा जा रहा है उसका नंबर एडमिन के पास होना चाहिए और एडमिन एक यूजर को दो बार से ज्यादा किसी ग्रुप में नहीं जोड़ पाएगा। हालांकि, यह जानकारी नहीं मिल पाई है कि इस अपीली को लेकर व्हाट्सएप की तरफ से क्या प्रतिक्रिया दी गई है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस