एप्पल (Apple) ने आईफोन (Iphone) में सुरक्षा खामी को ठीक कर लिया है। इससे पहले हैकर्स आईफोन और कंपनी के दूसरे डिवाइस को हैक कर रहे थे। टोरंटो यूनिवर्सिटी की सिटीजन लैब के रिसर्चर ने कहा, 'सऊदी अरब के एक एक्टिविस्ट के मोबाइल में स्पाई सॉफ्टवेयर इंस्टॉल किया गया था।' उन्होंने कहा कि इजराइल की हैकर कंपनी एनएसओ ग्रुप इस अटैक के पीछे है।

एप्पल ने जारी किया अपडेट

रिपोर्ट में कहा गया है कि यह सिक्योरिटी एप्पल के सभी प्रमुख डिवाइस में थी। इस सॉफ्टवेयर की खामी का फायदा फरवरी से उठाया जा रहा है। इस कारण एनएसओ समूह के स्पाई सॉफ्टवेयर पेगासस को स्मार्टफोन में इंस्टॉल किया जा रहा था। पेगासस कि सहायता से जर्नलिस्ट, एक्टिविस्ट और बड़े पद के अधिकारियों पर नजर रखी जा रही थी। इसके लेकर एपल ने अपडेट जारी कर दिया है।

यूजर्स को नहीं कोई खतरा

एप्पल ने इस खामी को खोजने का क्रेडिट सिटीजन लैब को दिया है। कंपनी के सिक्योरिटी इंजीनियरिंग और आर्किटेक्चर के हेड ने कहा कि इस तरह के हमले बेहद मुश्किल होते हैं। इसको बनाने में लाखों रुपए खर्च होते हैं। इसका इस्तेमाल किसी स्पेसिफिक पर किया जाता है। इस खामी को दूर कर दिया गया है। यूजर्स को कोई खतरा नहीं है।

Posted By: Navodit Saktawat