दुनिया में ऑनलाइन फ्रॉड के केस लगातार बढ़ रहे हैं। ठग कई हथकड़े अपना कर लोगों को चुना लगा रहे हैं। यूनिसिस सिक्योरिटी इंडेक्स 2020 की रिपोर्ट के अनुसार सबसे अधिक बैंक कार्ड के केस सबसे अधिक है। वहीं कार्ड डिटेल चोरी और ऑनलाइन शॉपिंग धोखाधड़ी के मामले बढ़ रहे हैं। वहीं लोकल सर्किल्स सर्वे की एक रिपोर्ट के अनुसार 29 प्रतिशत लोग अपना एटीएम पिन परिवार से शेयर करते हैं। 33 प्रतिशत लोग बैंक अकाउंट, डेबिट/क्रेडिट कार्ड डिटेल और एटीएम पासवर्ड मोबाइल में रखते हैं। 11 प्रतिशत जरूरी पासवर्ड स्मार्टफोन कॉन्टैक्ट लिस्ट में रखते हैं। आइए जानते हैं किस तरह धोखाधड़ी से बचा जा सकता है।

ऐसे रहें सावधान

मोबाइल में ईमेल पासवर्ड, एटीएम पिन सेव नहीं करना चाहिए। वह किसी से शेयर नहीं करना चाहिए।

कैसे करते हैं फ्रॉड

आज तक कोरोना जांच के नाम पर भी फ्रॉड बढ़ रहे हैं। ऐसे आए किसी कॉल से सावधान रहें। अपनी कोविड रिपोर्ट और निजी जानकारी किसी से साझा नहीं करें। वहीं कैश बैक, लोन और फ्री रिचार्ज के नाम पर कॉल कर ठगी करते हैं।

ये काम कभी नहीं करें

धोखाधड़ी से बचने के लिए अनजान लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए। फर्जी मेल और एसएमएस को डिलीट कर देना चाहिए। कभी सीवीवी, ओटीपी, एटीएम पिन और डॉक्टूमेंट शेयर नहीं करना चाहिए।

Posted By: Shailendra Kumar