आज के समय में फेसबुक दुनिया भर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म में से एक है। ये देश ही नहीं बल्कि दुनिया के कोने-कोने में फैला हुआ है। हम में से बहुत से लोग सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, इंस्टग्राम व अन्य सोशल साइट पर मौजूद हैं। जिनमें से बहुत से लोग इस सोशल साइट्स पर एक्टिविटी तो दिखाते हैं लेकिन किसी कारणवश उनकी मृत्यु हो जाती है तो फिर उन सोशल अकाउंट्स का क्या होता होगा? अगर आप भी कुछ इसी तहर के सवालों का जवाब ढूंढ रहे हैं तो यहां पर आपको इन्ही सवालों के जवाब मिलने वाले हैं।

फेसबुक अकाउंट चलाने वाले की जब मृत्यु हो जाती है तो उनके मरने के बाद फेसबुक अकाउंट का क्या होता है, क्या वह फेसबुक अकाउंट चलता रहता है या फिर उसे बंद कर दिया जाता है? अगर आप भी कुछ ऐसे ही सवालों के जवाब ढूंढ रहे हैं तो हम आपको यहां बताने जा रहे हैं कि इन अकाउंट्स का क्या होता है? दरअसल इसके लिए फेसबुक ने मृत लोगों के लिए कुछ नियम बनाए हैं, जिसके बारे में कंपनी ने अपने हेल्प सेंटर पर जानकारी दी है इसके अनुसार व्यक्ति चाहे तो मृत्यु के उपरांत अपने अकाउंट की देखभाल के लिए legacy contact अपाॅइंट कर सकता है या फिर अपने अकाउंट को फेसबुक से पूरी तरह से डिलीट करवा सकता है।

Memorialised account

अगर कोई व्यक्ति अपने अकाउंट को पर्मानेंट डिलीट करने का चुनाव नहीं किया है और फेसबुक को उसकी मृत्यु के बारे में पता चलता है तो कंपनी उस अकाउंट को Memorialised account में बदल देगी। अब आप सोचते होंगे कि ये मेमोरियलाइज्ड क्या होता है? तो ये अकाउंट फैमिली और फ्रैंड्स के लिए ऐसी जगह होती है, जहां लोग मरने वाले व्यक्ति की यादों को साझा कर सकते हैं। चलिए इसके बारे में और जानते हैं।

क्या होता है Legacy Contacts

इस तरह का काॅन्टेक्ट सीधेतौर पर मेमोरियलाइन्ड अकाउंट से जुड़ा होता है, इसका चुनाव आप मेमोरियलाइज्ड अकाउंट की देखभाल करने के लिए कर सकते हैं। फेसबुक इस तरह का सेलेक्शन करने के लिए सभी यूजर्स को Legacy Contact सेट करने का सुझाव देता है, जिससे किसी की मृत्यु के बाद उसके अकाउंट की देखभाल की जा सके। चलिए जानते हैं कि इस अकाउंट्स के माध्यम से क्या-क्या किया जा सकता है?

  • जिसकी मृत्यु हो चुकी है उसके लिए Legacy Contact उसकी प्रोफाइल के लिए पोस्ट लिख सकता है।
  • मृत्यु धारक की प्रोफाइल फोटो या कवर फोटो को बदल सकता है।
  • मृत्यु धारक के अकाउंट को डिलीट करने की रिक्वेस्ट डाल सकता है।
  • यदि आपने यह फीचर ऑन किया है तोLegacy Contact आपके फेसबुक पर शेयर की गई चीजों की काॅपी को डाउनलोड कर सकता है।
  • इसके अलावा इसमें कुछ ऐसे काम भी शामिल हैं, जो एक Legacy Contact कभी नहीं कर सकता और वह है मृत्यु धारक के अकाउंट को लाॅगिन करना, इसके साथ ही मैसेज को पढ़ना, फ्रैंड्स को रिमूव करना या किसी को फ्रैंड रिक्वेस्ट भेजना ये नहीं कर सकता।

अगर आप चाहते हैं कि आपकी मृत्यु के बाद आपका फेसबुक अकाउंट डिलीट हो जाए तो इसके लिए भी फेसबुक में ऑप्शन दिया जाता है, जिसकी मदद से आपका अकाउंट फेसबुक के माध्यम से डिलीट कर दिया जाता है। फेसबुक को आपके मरने की जानकारी मिलने के बाद आपके सभी फोटो, मैसेज, पोस्ट, कमेंट्स, रिएक्शंस और अन्य जानकारी को तुरंत फेसबुक से रिमूव कर दिया जाता है लेकिन इसके लिए जरूरी है कि आपके मरने की खबर फेसबुक तक पहुंचे। इसके लिए आप फेसबुक द्वारा जारी की गई इस सुविधा को फाॅलो करें

  • इसके लिए सबसे पहले आप फेसबुक के टाॅप राइट काॅर्नर पर दिए अकाउंट पर क्लिक करें
  • इसके बाद Settings & privacy को सिलेक्ट करें और Settings पर जाएं।
  • ऐसा करने के बाद Memorialisation settings पर क्लिक करें।
  • नीचे की ओर स्क्रॉल करें और फिर Request that your account be deleted after you pass away पर क्लिक करें और फिर Delete after death पर क्लिक करें।

ऐसा करने के बाद आपके मृत्यु के बाद फेसबुक से आपके अकाउंट को डिलीट कर दिया जाएगा इसके बारे मे अधिक जानकारी के लिए https://www.facebook.com/help/103897939701143 पर क्लिक करे।

Posted By: Arvind Dubey