वॉट्सएप (WhatsApp) यूजर्स के लिए बहुत जरूरी खबर है। इस मैसेंजिंग एप को लेकर एक नए स्कैम का खुलासा हुआ है। जिसमें लोगों का पूरा डेटा सेकंड में हैकर्स तक पहुंच जाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी के एक मॉडिफाइड एंड्रॉयड वर्जन के बारे में जानकारी मिली है। इसको डाउनलोड करते ही हैकर के पास यूजर्स के मोबाइल का कंट्रोल आ जाता है। इस खतरनाक वर्जन की जानकारी साइबर सिक्योरिटी मेजर Kaspersky ने दी है।

अतिरिक्त फीचर्स ऑफर करता है

साइबर सिक्योरिटी की रिपोर्ट के मुताबिक वॉट्सएप का मॉडिफाइड वर्जन FMWhatsApp 16.80.0 है। यह ट्रोजन ट्रायडा को आकर्षित करता है। यूजर को अतिरिक्त फीचर्स ऑफर करते हैं, जो असली वॉट्सएप में नहीं होते हैं। Kaspersky के अनुसार मॉडिफाइन एंड्रॉयड वर्जन में ट्रोजन ट्रायडा दिया गया है। साथ ही विज्ञापन सॉफ्टवेयर डिवलपमेंट किट भी है। ऐसे में इस एप को खोलते ही ये स्मार्टफोन के आईडी, सब्सक्राइबर आईडी सहित कई जानकारी प्राप्त कर लेता है।

डिटेल्स रिमोट सर्वर में ट्रांसफर करता है

यह पूरी डिटेल्स रिमोट सर्वर में सेंड कर देता है। सर्वर के पास जानकारी पहुंचने पर डिवाइस को रजिस्टर कर लेता है। फिर ट्रोजन पेलेड को इनफेक्टेडेड कर देता है। वहीं कंटेंट को डिक्रिप्ट करते ऑपरेशन के लिए लॉन्च करता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि एफएमवॉट्सएप डिवाइस के मैसेज को पढ़ने की परमिशन भी प्राप्त कर लेता है। इसके बाद यह बैंक अकाउंट सहित वित्तीय नुकसान पहुंचाने लगता है।

Posted By: Shailendra Kumar