5G Spectrum: देश में कुछ ही महीनों में फोन पर 5जी की सुविधा मिलने लगेगी। इस दिशा में सरकार की ओर से सभी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि कंपनियों को 5जी स्पेक्ट्रम असाइनमेंट लेटर जारी कर दिया गया है। इसके साथ ही सभी TSP (टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर) से 5G लॉन्च की तैयारी करने का अनुरोध किया गया है। आपको बता दें कि देश की अबतक की सबसे बड़ी दूरसंचार स्पेक्ट्रम की नीलामी में रिकॉर्ड 1.5 लाख करोड़ रुपये की बोलियां प्राप्त हुई थीं। दूरसंचार विभाग (DoT) को दूरसंचार कंपनियों से 5जी स्पेक्ट्रम के अग्रिम भुगतान के रूप में 17,876 करोड़ रुपये का अग्रिम भुगतान मिला है।

भारती एयरटेल ने किया अग्रिम भुगतान

5जी स्पेक्ट्रम के अग्रिम भुगतान के तौर पर दूरसंचार मंत्रालय को अब तक कुल 17,876 करोड़ रुपये मिले हैं। इसमें रिलायंस जियो ने 7,864.78 करोड़ रुपये, वोडाफोन आइडिया ने 1,679.98 करोड़ रुपये और अडाणी डेटा नेटवर्क्स ने 18.94 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। वहीं भारती एयरटेल ने एक बार में चार वार्षिक किस्तों के बराबर का भुगतान किया है। आपको बता दें कि सभी दूरसंचार कंपनियों ने 20 वर्ष की किस्तों में भुगतान करने का विकल्प चुना है। इस मामले में भारती एयरटेल ने चार वार्षिक किस्तों के बराबर 8,312.4 करोड़ रुपये की राशि का पहले ही भुगतान कर दिया। भारती इंटरप्राइजेज के चेयरमैन सुनील मित्तल ने खुद इसकी जानकारी दी।

किसको मिले स्पेक्ट्रम?

उद्योगपति मुकेश अंबानी की जियो ने 87,946.93 करोड़ रुपये की बोली के साथ बेचे गयी सभी स्पेक्ट्रम का लगभग आधा हिस्सा हासिल किया है। भारत के सबसे धनी व्यक्ति गौतम अडाणी के समूह ने 400 मेगाहर्ट्ज के लिए 211.86 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी। हालांकि इसका इस्तेमाल सार्वजनिक टेलीफोन सेवाओं के लिए नहीं किया जाता है। वहीं, सुनील भारती मित्तल की भारती एयरटेल ने 43,039.63 करोड़ रुपये की सफल बोली लगाई है। वोडाफोन-आइडिया ने 18,786.25 करोड़ रुपये में स्पेक्ट्रम खरीदा है।

Koo App

5G update: Spectrum assignment letter issued. Requesting TSPs to prepare for 5G launch.

- Ashwini Vaishnaw (@ashwinivaishnaw) 18 Aug 2022

Posted By:

  • Font Size
  • Close