नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने बुधवार को दुनिया की सबसे बड़ी मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप को टक्कर देने के लिए 'किम्भो' ऐप लॉन्च किया था। सबसे हैरानी वाली बात यह है कि लॉन्च के कुछ ही घंटों बाद मैसेजिंग ऐप गूगल प्ले स्टोर से अचानक गायब हो गया। कुछ लोग जो प्ले स्टोर से ऐप डाउनलोड करने की कोशिश कर रहे थे, उन्होंने देखा कि ऐप गूगल स्टोर पर उपलब्ध ही नहीं है।

बता दें कि नया स्वदेशी मैसेजिंग ऐप किम्भो व्हाट्सएप की टक्कर में पेश किया गया है। पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने ट्वीट किया की- 'अब भारत बोलेगा। सिम कार्ड की लॉन्चिंग के बाद बाबा रामदेव ने अब किम्भो मैसेजिंग ऐप लॉन्च की है। अब व्हाट्सएप को यह ऐप टक्कर देगी।'

जानें इस ऐप के बारे में -

किम्भो प्राइवेट और ग्रुप चैट के साथ फोन और वीडियो कॉलिंग की सुविधा देता है। ऐप में टेक्स्ट शेयर, ऑडियो, फोटोज, वीडियोज, स्टिकर्स, लोकेशन, GIF और डूडल समेत कई फीचर्स हैं। किम्भो की टैगलाइन है- अब भारत बोलेगा।

बीएसएनएल के साथ लॉन्च की थी स्वदेशी समृद्धि सिम -

आपको बता दें, पतंजलि की मैसेजिंग एप कंपनी के स्वदेशी समृद्धि सिम कार्ड्स पेश करने के बाद लाई गई है। पतंजलि ने बीएसएनएल के साथ पार्टनरशिप कर ली है। एक इवेंट के दौरान बाबा रामदेव ने बीएसएनएल नेटवर्क पर स्वदेशी समृद्धि सिम कार्ड्स की घोषणा की है। इसके तहत 144 रुपए के नए बीएसएनएल पतंजलि प्लान को पेश किया गया है।

Posted By: