भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव का असर देश में नजर आ रहा है और इसी का नतीजा है कि सरकार के साथ ही आम लोगों भी चीनी एप्स और उत्पादों का विरोध करने में लगे हैं। खबर है कि सरकार ने एक नया कदम उठाते हुए पड़ोसी देशों की कंपनियों द्वारा सरकारी प्रोजेक्ट्स में बोली लगाने पर रोक लगाई है। इसके बाद अब खबर है कि केंद्र सरकार TikTok और Weibo के बाद अब देश की सुरक्षा को देखते हुए आने वाले दिनों में और भी चायनीज एप्स पर प्रतिबंध लगा सकती है।

हालांकि, इसे लेकर कोई भी आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि सरकार आने वाले दिनों में ऐसा कदम उठा सकती है। केंद्र सरकार के सूचाना और प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने जून महीने में 59 चायनीज एप्स पर प्रतिबंध लगाया था। केंद्र सरकार ने यह बैन LAC पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद लगाया था।

बाद में सरकार ने आदेश जारी कर कंपनियों को इस फैसले का सख्ती से पालन करने के निर्देश भी दिए थे। चीन के जिन 59 एप पर रोक लगी है उनमें शेयरइट, क्वाई, बाइडू मैप, शीन, क्लैश ऑफ किंग्स, डीयू बैट्री सेवर, हेलो, लाइकी, यू कैन मेकअप, माई कम्युनिटी, यूसी न्यूज, वीबो, वीमेट, वीगो वीडियो, स्वीट सेल्फी जैसे चर्चित एप भी शामिल हैं।

दुनिया के अन्य देशों में भी बैन के बादल

TikTok समेत 59 एप्स पर प्रतिबंध के बाद अब अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी इस पर प्रतिबंध लगाने की मांग उठने लगी है और दोनों ही देश जल्द ही इस पर प्रतिबंध लगा सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान ने भी इस पर रोक लगाई है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags