मुंबई। दृष्टिबाधित लोगों के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक स्पेशल ऐप लॉन्च की है। यह ऐप दृष्टिबाधित लोगों को करेंसी नोटों की पहचान करने में बड़े काम आएगी। मोबाइल एडेड नोट आइडेंटिफायर (MANI) नाम की इस मोबाइल एप्लीकेशन की मदद से दृष्टिबाधित व्यक्ति करेंसी नोट की पहचान आसानी से कर पाएंगे। रिजर्व बैंक की यह ऐप एंड्रॉयड प्ले स्टोर और iOS ऐप स्टोर से मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है।

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद पेश किए गए महात्मा गांधी सीरीज के नए नोटों की डिजाइन में अहम परिवर्तन किए गए हैं। पिछले कुछ वर्षों के दौरान 10, 20, 50, 100, 200, 500 और 2000 रुपये के नए नोट जारी किए गए हैं। इनमें कईं ऐसे फीचर्स और कलर्स का उपयोग किया गया है जो दृष्टिबाधीत लोगों के लिए पहचानना संभव नहीं हो पाता है। इनमें इंटेग्लियो इंक, नोट पर अंकों का साइज, नोट का साइज व अन्य शामिल हैं। कई बार यह सुनने में आया है कि दृष्टिबाधित लोगों को इन नए नोटों की पहचान में दिक्कत आ रही है। इससे उनका दैनिक कार्य और व्यापार प्रभावित हो रहा था।

ऐसे करेगी काम, होगी नोट की पहचान

आरबीआई ने बताया कि यह ऐप महात्मा गांधी सीरीज के सभी नए और पुराने करेंसी नोटों की किसी भी लाइट कंडिशन में पहचान करने में सक्षम होगा। कैमरे की मदद से यह ऐप नोट की तस्वीर खींचेगा और उसके मूल्य की जानकारी ऑडियो के जरिये देगा। यह जानकारी हिंदी व अंग्रेजी में ऑडियो के माध्यम से दी जाएगी। इस ऐप की एक और खास बात यह है कि इसे इंस्टाल करने के बाद इंटरनेट की जरूरत नहीं होगी।

इसका मतलब यह है कि अगर यूजर के फोन में इंटरनेट काम नहीं कर रहा तब भी वो नोट की पहचान कर सकेगा। आरबीआई के इस नए ऐप की मदद से नई सीरीज के इन करेंसी नोटों की पहचान आसानी से की जा सकेगी। मनी एप में भाषा बदलने का विकल्प मौजूद है और इसे वॉइस कमांड के जरिये भी चलाया जा सकेगा।

Posted By: Ajay Barve

  • Font Size
  • Close