आप अक्सर पढ़ते होंगे कि Google ने मालवेयर की वजह से एप्स प्ले स्टोर से हटाई या फिर हैकर्स ने लोगों को लिंक या कुछ एप्स भेजकर उनके अकाउंट हैक कर लिए। दरअसल, यह सब होता है वायरसेस की मदद से जिन्हें हैकर्स आपके मोबाइल फोन्स या लैपटॉप में भेजते हैं और फिर यही वायरस या मालवेयर्स आपके सिस्टम में घुसकर उसे ना सिर्फ बर्बाद करते हैं बल्कि आपकी महत्वपूर्ण जानकारियां भी चुरा लेते हैं। Kaspersky Threat Intelligence Portal ने ऐसे ही दुनिया से सबसे खतरनाक मालवेयर्स की लिस्ट बनाई है और उनमें टॉप तीन में Trojan, Backdoors और Droppers शीर्ष मॉलवेयर है।

Kaspersky की एक रिपोर्ट के अनुसार वैश्विक स्तर पर कंप्यूटर को नुकसान पहुंचाने के मामले में ट्रोजन, बैकडूर्स और डोपर्स तीन शीर्ष मॉलवेयर हैं। ये तीन मॉलेवेयर कंप्यूटर्स पर होने वाले साइबर हमले के 72 फीसद हमले के लिए जिम्मेदार हैं।

क्या है Malware

मालवेयर एक प्रकार का सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है जो आपके कंप्यूटर के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इस सॉफ्टवेयर को हैकर्स कंप्यूटर से पर्सनल डाटा चोरी करने के लिए डिजाइन करते हैं।

हैकर्स की भाषा में मालवेयर टर्म का यूज वायरस, स्पाय वेयर और वार्म आदि के लिए किया जाता है। ये तीनों वायरस के ही रूप हैं।

मालवेयर आपकी निजी फाइलों तक पहुंचकर उन्हें दूसरी किसी डिवाइस में ट्रांसफर कर सकता है। इसके जरिए हैकर्स आपकी सूचनाएं, फोटो, वीडियो, बैंक या अकाउंट से जुड़ी जानकारी चुरा सकते हैं।

ज्यादातर मामलों में, सबमिट की गई हैशेस या अपलोड की गई फाइलें संदिग्ध ट्रोजन होती हैं (25 प्रतिशत), बैकसाइड (24 प्रतिशत) जो की हैकर को आपके कंप्यूटर का रिमोट कंट्रोल दे देता है और ट्रोजन-ड्रॉपर (23 प्रतिशत) है जो आपके सिस्टम में खतरनाक चीजें डालता है। केस्परकी के स्टेटिस्टिक्स दिखाते हैं कि ट्रोजन्स सबसे ज्यादा फैलने वाला मालवेयर है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan