WhatsApp Alert । बीते कुछ समय से सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक के स्वामित्व वाला मैसेंजर ऐप व्हाट्सएप (WhatsApp) अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर आलोचना का सामना कर रही है। WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पहले 8 फरवरी से लागू होने वाली थी लेकिन विवाद बढ़ने पर इस तारीख को 15 मई 2021 तक बढ़ा दिया गया था। अब WhatsApp पर फिर से तीन माह बाद इस प्राइवेसी पॉलिसी को लागू किया जा रहा है और प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर WhatsApp अपने यूजर्स को नोटिफिकेशन भी भेज रहा है। इसका मतलब ये है कि WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी को यूजर्स को 15 मई 2021 से पहले स्वीकार करना होगा। ऐसे में आपके लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि आप इसे स्वीकार नहीं करते हैं तो क्या होगा?

कंपनी के प्राइवेसी पॉलिसी की जानकारी

- 15 मई में WhatsApp की नई पॉलिसी लागू होने जा रही है और इस बार कंपनी इस पॉलिसी को टालने के मूड में नहीं दिख रही है।

- कंपनी ने कहा है कि जो यूजर्स व्हाट्सएप की नई पॉलिसी 15 मई तक स्वीकार नहीं करते हैं तो उसके बाद कोई मैसेज नहीं भेज पाएंगे और ना ही प्राप्त कर पाएंगे।

- प्राइवेसी पॉलिसी की शर्तों को स्वीकार नहीं करते हैं तो यूजर्स का खाता इनएक्टिव दिखेगा और इनएक्टिव अकाउंट 120 दिन बाद डिलीट हो जाएगा। शर्तों को स्वीकार करने के लिए कंपनी हर रोज या फिर कुछ दिनों पर नोटिफिकेशन देती रहेगी और फिर इसे भी बंद कर देगी।

भारत में इस पॉलिसी को हो रहा विरोध

गौरतलब है कि WhatsApp की नई शर्तों को लेकर सबसे ज्यादा विरोध भारत में हो रहा है। WhatsApp की इस नई पॉलिसी से लोगों में काफी नाराजगी है कि व्हाट्सएप अब अपनी पैरेंट कंपनी फेसबुक के साथ ज्यादा डाटा शेयर करने की योजना बना रहा है, हालांकि व्हाट्सएप ने साफ किया कि ऐसा नहीं होगा, बल्कि ये अपडेट असल में बिजनेस अकाउंट्स से जुड़ा है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags