मल्टीमीडिया डेस्क। जिस फीचर की कुछ महीने पहले चर्चा हो रही थी आखिरकार वो WhatsApp यूजर्स तक पहुंचने लगा है। फेसबुक के मालिकाना हक वाली कंपनी व्हाट्सएप सबसे सुरक्षित सोशल मीडिया ऐप मानी जाती है। इसी को ध्यान में रखते हुए अपने यूजर्स के लिए एक और बेहद सुरक्षित फीचर लेकर आई है। कंपनी ने iOS के बाद अब एंड्रायड यूजर्स के लिए भी फिंगरप्रिंट लॉक फीचर जारी कर दिया है। हालांकि, फिलहाल यह केवल एंड्रायड बीटा यूजर्स को ही मिल रहा है और जल्द ही सभी यूजर्स तक पहुंच जाएगा।

खबरों के अनुसार व्हाट्सएप का यह नया फीचर एंड्रायड के 2.19.221 वाले बीटा वर्जन के साथ आएगा। इस अपडेट के बाद यह खुद ब खुद एक्टिवेट नहीं होगा और यूजर को अपनी जरूरत के अनुसार इसे एक्टिव करना होगा। इसे एक्टिव करते ही कोई भी आपके व्हाट्सएप में झांक नहीं सकेगा।

यह फीचर ऐप में ही अलग सेक्शन में दिया जाएगा। जैसे ही आप इस फीचर को एक्टिवेट करेंगे, आपका व्हाट्सएप अकाउंट कोई ओर नहीं देख पाएगा। इसे एक बार लॉक करने के बाद यूजर भी तभी व्हाट्सएप का एक्सेस कर पाएगा जब उसका फिंगरप्रिंट मैच होगा। इसका मतलब है कि अगर कोई आपका स्मार्टफोन अनलॉक कर भी लेता है तो वो आपकी व्हाट्सएप चैट नहीं पढ़ सकेगा।

ऐसे करें यूज

- यह फीचर व्हाट्सएप के लेटेस्ट बीटा वर्जन 2.19.221 में उपलब्ध है।

- यूजर को आईफोन की ही तरह इसे भी प्राइवेसी टैब में जाकर एक्टिवेट करना होगा।

- आप ये सेट कर सकते हैं कि एक बार अनलॉक करने के बाद कितने समय तक आपको फिंगरप्रिंट की जरूरत नहीं होगी

- इसमें एक मिनट, 10 मिनट और 30 मिनट तक का समय है

- अगर यूजर स्क्रीन लॉक को चुनता है तो उसे अपने डिवाइस के लिए ऑथेंटिकेशन प्रोसेस का भी चयन करना होगा।

- इस फीटर के एक्टिवेट होने के बावजूद यूजर स्क्रीन मैसेज नोटिफिकेशन के माध्यम से मैसेज रिसीव और सेंड कर सकेगा।

- इसके लिए यूजर को व्हाट्सएप पर टच या फेस आईडी फीचर कॉन्फिगर करना होगा।

- एक बार कॉन्फिगरेशन होने के बाद यूजर को ऐप बंद करनी होगी और फिर से चालू करनी होगी।

- इसके बाद यूजर अपना व्हाट्सएप चलाने के लिए अपनी पहचान का ऑथेंटिकेशन कर सकता है।

- अगर किसी कारण से आईफोन की टच आईडी काम नहीं करती तो यूजर पासकोड के माध्यम से भी लॉगिन कर सकता है।