अमेरिका टेक दिग्गज याहू (Yahoo) ने आज से (गुरुवार) भारत में अपनी कुछ सर्विस को बंद कर दिया है। जिस कारण अब पूरे देश में याहू के माध्यम से कंटेंट का पब्लिकेशन बंद हो गया है। हालांकि कंपनी ने अपने यूजर्स को आश्वासन दिया है कि उनके याहू अकाउंट, ईमेल और सर्च एक्सपीरियंस किसी तरह से प्रभावित नहीं होंगे। याहू ने भारत में डिजिटल सामग्री को ऑपरेट और पब्लिश करने वाली मीडिया कंपनियों के विदेशी स्वामित्व को सीमित करने वाले नए फॉरेन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट नियमों के कारण अपनी समाचार वेबसाइटों को बंद कर दिया है। इसमें याहू न्यूज (Yahoo News), याहू क्रिकेट (Yahoo Cricket), फाइनेंस, एंटरटेनमेंट और मेकर्स इंडिया शामिल हैं।

याहू वेबसाइट (Yahoo Website) पर एक नोटिस में कहा गया- 26 अगस्त 2021 से याहू इंडिया (Yahoo India) अब कंटेंट पब्लिश नहीं करेगा। आपका याहू अकाउंट, मेल और सर्च एक्सपीरियंस किसी तरह से प्रभावित नहीं होंगे। हम आपके समर्थन और पाठकों को धन्यवाद देते हैं। याहू वेबसाइट पर पूछे जाने वाले एफएक्यू के अनुसार कंपनी ने भारत में कंटेंट ऑपरेशन को बंद कर दिया है। कंपनी ने कहा कि देश में नियामक कानूनों में बदलाव से याहू इंडिया (Yahoo India) प्रभावित हुआ है। जो अब भारत में डिजिटल सामग्री को संचालित और प्रकाशित करने वाली मीडिया कंपनियों के एफडीआई को सीमित करता है। याहू का भारत के साथ एक लंबा जुड़ाव रहा है। हम पिछले 20 सालों से अपने ग्राहकों को उपलब्ध कराई गई प्रीमियम सामग्री पर गर्व है।

समर्थन और विश्वास के लिए धन्यवाद

याहू (Yahoo) ने कहा कि पिछले दो दशकों में भारत में अपने सभी उपयोगकर्ताओं को 'समर्थन और विश्वास' के लिए धन्यवाद देते हुए। कंपनी ने कहा कि भारत में पहले का तरह बिना किसी बदलाव के यूजर्स को सर्विस देना जारी रखेगा।

क्या है नए एफडीआई नियम?

अक्टूबर में लागू होने वाले नए एफडीआई (FDI) नियमों के अनुसार, भारत में डिजिटल मीडिया कंपनियां विदेशी निवेशी के रूप में 26 प्रतिशत तक निवेश स्वीकार कर सकती हैं।

Posted By: Shailendra Kumar