नई दिल्ली। यूट्यूब ने अपनी एडवर्टाइजमेंट पॉलिसी में बड़े बदलाव किए हैं। अब उन चैनल्स पर विज्ञापन नहीं दिखाए जाएंगे, जिनके व्यूज 10,000 से कम हैं यानी अगर आप भी यू-ट्यूब से पैसा कमाने की सोच रहे हैं, तो अब यह काम आपके लिए आसान नहीं होगा।

पायरेटेड वीडियो के जरिए पैसे कमाने वाले यूजर्स को रोकने के लिए कंपनी ने यह कदम उठाया है। अल्फाबेट इंक की यूट्यूब ने गुरुवार को कहा कि जैसे ही चैनल 10,000 व्यूज की लिमिट पार करेगा, उसके बाद कंटेंट का रिव्यू किया जाएगा और विज्ञापन लगाए जाएंगे।

हालांकि, यह पॉलिसी पहले से मौजूद पुराने चैनल्स पर लागू नहीं होगी। यूट्यूब प्रोडक्ट मैनेजमेंट के वाइस प्रेसिडेंट एरियल बार्डिन ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि 10,000 व्यूज लिमिट रखने के साथ ही हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि नए और महत्वकांक्षी यूजर्स पर खराब असर न पड़े।

ब्लॉग पोस्ट में यह भी बताया गया है कि यूट्यूब पार्टनर प्रोग्राम के लिए अप्लाई करने वाले यूजर्स का भी रिव्यू किया जाएगा।

यूट्यूब ने ऐसा क्यों किया

यू-ट्यूब के पार्टनरशिप प्रोग्राम की वजह से दुनिया भर में लोगों ने अपने वीडियो अपलोड करने शुरु कर दिए हैं।इन्हींं के बीच कुछ ऐसे लोग भी थे, जिन्होंने दूसरों के वीडियो अपने चैनल पर अपलोड करना शुरु कर दिया था।

कभी-कभी ऐसे वीडियो मिलियन तक का आंकड़ा भी पार कर लेते थे। इस तरह के लोगों से निपटने के लिए यूट्यूब ने अपने पार्टनरशिप प्रोग्राम में बदलाव किया है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan