ध्यान रखें सीढ़ियों से जुड़े ये वास्तु नियम, खुलने लगेंगे तरक्की के रास्ते


By Ekta Sharma2023-05-06, 17:31 ISTnaidunia.com

घर की सीढ़ियां

यदि कुछ बातों को ध्यान में रखा जाए तो आप सफलता के रास्ते पर आगे बढ़ सकते हैं। वास्तु में खुशहाली, तरक्की और उन्नति के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण बातें बताई गई हैं।

सीढ़ियों से जुड़ा वास्तु

हमारे घर की सीढ़ियां एक महत्वपूर्ण स्थान होता है,सीढ़ियां हमें ऊपर की ओर लेकर जाती हैं इसलिए माना जाता है कि सीढ़ियों में दोष का प्रभाव हमारी उन्नति पर भी पड़ता है।

वास्तु के नियम

वास्तु में सीढ़ियों को लेकर भी महत्वपूर्ण नियम बताए गए हैं। यदि आपके घर में सीढ़ियां सही प्रकार से बनी हुई हैं, तो ये आपको उन्नति के शिखर तक ले जा सकती हैं।

नैऋत्य कोण

वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में सीढ़ियां बनवाने के लिए नैऋत्य कोण यानी दक्षिण-पश्चिम दिशा उत्तम रहती है या फिर उत्तर-पश्चिम दिशा में सीढ़ियां बनवानी चाहिए। इससे घर में के सदस्यों की प्रगति होती है।

सम में हो सीढ़ियां

इस बात का ध्यान रखना चाहिए की सीढ़ियों की संख्या कभी सम में नहीं होनी चाहिए, सीढ़ियां हमेशा विषम संख्या जैसे 7, 11, 21 आदि। इससे परिवार के सदस्यों की तरक्की होती है।

पिरामिड रखें

सीढ़ियों में यदि कोई वास्तु दोष है और उसे तोड़ा नहीं जा सकता है तो सीढ़ियों के नीचे पिरामिड रखना चाहिए, इससे वास्तु दोष की समस्या दूर होती है।

न बनवाएं ये

घर में बनी हुई सीढ़ियों के नीचे यदि खाली स्थान है, तो उसके नीचे कभी भी उसके नीचे बाथरूम, टॉयलेट या रसोई नहीं बनवानी चाहिए। इसके अलावा एक्वेरियम भी सीढ़ियों के नीचे नहीं रखना चाहिए।

क्लाॅकवाइज हों

सीढ़ियां प्रगति का प्रतिनिधित्व करती हैं, इसलिए सीढ़ियों को हमेशा क्लॉकवाइज घुमाव में बनवाना चाहिए। माना जाता है कि ऐसी सीढ़ियां उन्नति की ओर ले जाती हैं।

Mars Transit: मंगल ग्रह का वृषभ राशि में प्रवेश, इन राशियों को होगा धन लाभ