Kalashtami 2022: कालाष्टमी के दिन काल भैरव को इन उपायों से करें प्रसन्न


By Shailendra Kumar2022-12-15, 22:29 ISTnaidunia.com

आर्थिक उन्नति के लिए करें पूजा

इस दिन कालभैरव की पूजा करने से आर्थिक उन्नति होती है। साथ ही पाप ग्रह कभी परेशान नहीं करते हैं।

राहु-शनि के दोष होंगे दूर

कालभैरव को नारियल, गेरुआ सिंदूर, पान का पत्ता चढ़ाएं। इससे शनि, राहु-केतु की परेशानी दूर होती है।

भैरव के वाहन को दें भोजन

कालभैरव को प्रसन्न करने के लिए विशेष रूप से काले कुत्ते को खाना खिलाएं। इससे अकाल मृत्यु का भय समाप्त होता है।

जानिए पूजा का शुभ मुहूर्त

अष्टमी तिथि 16 दिसंबर को दोपहर 1 बजकर 39 मिनट से शुरू होगी और अगले दिन 17 दिसंबर को सुबह 3 बजकर 2 मिनट तक रहेगी।

Tourism in Chhattisgarh: सैर सपाटे का है मन, छत्तीसगढ़ में ये हैं बेहतरीन जगहें