देश में कोरोना की दूसरी लहर ने दस्तक दे दी है। इस बीच अमेरिका प्रशासन ने चार मई से भारत पर यात्रा प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। हालांकि स्टूडेंट्स, बुद्धिजीवियों और पत्रकारों पर यह प्रतिबध लागू नहीं होगा। विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकन ने छूट संबंधी नोटिस जारी किया है। विदेश मंत्रालय के अनुसार ब्राजील, चीन, ईरान और दक्षिण अफ्रीका के यात्रियों को जिन श्रेणियों में छूट दी गई है। उसी तरह भारतीय यात्रियों को छूट मिलेगी।

बता दें कि भारत में कोविड के लगातार बढ़ते मामले को देखते हुए यूएस भारत से आने वाले लोगों पर 4 मई से प्रतिबंध लगाने जा रहा है। इस बात की जानकारी व्हाइट हाउस ने शुक्रवार को दी है। वहीं रिपब्लिकन सांसदनों ने यात्रा प्रतिबंध लगाने पर बाइडन प्रशासन का विरोध किया है। सांसद टिम बरचेट ने ट्वीट कर लिखा है कि सहयोगी देश पर ट्रेवलिंग बैन लगाना और मेक्सिको की सीमा को खुली रखना कहीं से ठीक नहीं है। एक अन्य सांसद जोडे एरिगटन ने भी बाइडन सरकार पर आलोचना की। उन्होंने कहा कि प्रतिबंध लगाना और सीमाओं को खुली रखना होता है जैसे कोई अपने मेन गेट पर ताला लगाकर रखे और पिछले दरवाजे को खुला छोड़े।

ऑस्ट्रेलिया ने यात्रा को गैरकानूनी बनाया

इधर ऑस्ट्रेलिया के नागरिक इस समय भारत में हैं। उनके लिए बेहद खराब खबर है। दरअसल देश लौटने पर उन्हें पांच साल की जेल या 37 लाख रुपए का जुर्मना देना होगा। संघीय स्वास्थ्य मंत्री फेडरल हंट ने कहा कि प्रतिबंध 3 मई से लागू होगा। आस्ट्रेलियाई सरकार ने कहा है कि यदि उसका कोई नागरिक 14 दिन पहले तक भारत में रहा है तो उसके देश आने पर प्रतिबंध रहेगा।

इन देशों ने भी लगाया यात्रा प्रतिबंध

नेपाल सरकार ने भारत से लगती सीमा पर 22 प्रवेश द्वारों को बंद करने का फैसला लिया है। कोविड आपदा प्रबंधन समन्वय समिति की सिफारिश के बाद मंत्रिमंडल ने यह फैसला लिया है। भारत-नेपाल सीमा पर 35 प्रवेश द्वार हैं। अब सिर्फ 13 प्रवेश द्वार पर आवाजाही होगी। इजरायल सरकार ने भारत समेत सात अन्य देशों पर यात्रा प्रतिबंध लगाया है। इन देशों में यूक्रेन, इथियोपिया, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, मेक्सिको और तुर्की शामिल हैं। आयरलैंड सरकार ने भारत को उन देशों में शामिल किया गया है, जिनका नाम होटल क्वारंटाइन सूची में है। इन देशों से आयरलैंड आने पर लोगों को अनिवार्य रूप से होटल में क्वारंटाइन होना पड़ेगा।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags