वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान कहा कि जब Covid-19 वायरस की वैक्सीन तैयार हो जाएगी, तो संयुक्त राज्य अमेरिका अन्य देशों को वैक्सीन प्रदान कर सकता है। ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि जब हमारे पास वह टीका होगा, तो उसे फैला दिया जाएगा और देखभाल की जाएगी। यह पूरे देश में एक बहुत ही तीव्र प्रक्रिया से किया जाएगा और शायद हम दुनिया के अन्य हिस्सों में बहुत से वैक्सीन की आपूर्ति करेंगे, जैसा कि हमने वेंटिलेटर और अन्य चीजों के साथ किया था, जो हम बनाने में बेहतर हैं।

ट्रंप प्रशासन का लक्ष्य वर्ष के अंत तक या 2021 की शुरुआत में वैक्सीन उपलब्ध कराना है। सोमवार को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (NIH) ने कहा कि अमेरिकी वैज्ञानिकों ने जैव प्रौद्योगिकी कंपनी मॉडर्न द्वारा विकसित संभावित टीके के चरण तीन परीक्षण शुरू कर दिए हैं।

एनआईएच लगभग कई अमेरिकी क्लीनिकल रिसर्च साइट्स पर 30,000 वयस्क स्वयंसेवकों की भागीदारी के साथ टेस्ट आयोजित करने की योजना बना रहा है, जो कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं हैं। जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका में मंगलवार दोपहर तक 43 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं।

वहीं, वायरस की वजह से एक लाख 49,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। उधर, मई के बाद पहली बार मंगलवार को 1,200 मौते हुईं, जो एक दिन में होने वाली मौतों की संख्या में सर्वाधिक है। इस महीने एरिजोना, कैलिफोर्निया, फ्लोरिडा और टेक्सास में संक्रमण की वजह से अस्पतालों में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

  • Font Size
  • Close