वाशिंगटन। मेरिका के एक वरिष्ठ सांसद ने अनुच्छेद 370 को खत्म करने के भारत सरकार के फैसले को लेकर विदेश मंत्री माइक पोंपियो को पत्र लिखने के लिए माफी मांगी है। डेमोक्रेट सांसद टॉम सूजी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर नौ अगस्त को पोंपियो को पत्र लिखा था। इस खत में उन्होंने भारत सरकार के फैसले से कश्मीर में सामाजिक अशांति बढ़ने की आशंका जताई थी।

अमेरिकी संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा के सदस्य सूजी ने लिखा था कि जम्मू-कश्मीर की स्वायत्तता पर लगी नई पाबंदियां कट्टरपंथी और आतंकियों को प्रोत्साहित करने वाली हो सकती हैं। इस पत्र से नाराज होकर भारतीय-अमेरिकियों ने सांसद को नाराजगी भरे संदेश भेजे थे। इसके बाद सूजी ने भारतवंशी समुदाय के साथ बैठक की थी। बैठक में शामिल होने आए भारतीय-अमेरिकियों ने उनसे खत वापस लेने की मांग की थी।

इस पर सूजी ने कहा कि मुझे पहले आपसे चर्चा करनी चाहिए थी। ऐसा करने से मैं अपनी चिंता सही तरीके से पेश कर सकता था। भारत और अमेरिका के मजबूत संबंधों की बात करते हुए उन्होंने खुद को भारत की संप्रभुता का समर्थक बताया। कश्मीर पर अपने विचार बदलते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान में कश्मीर के हालात चुनौतीपूर्ण हैं। अमेरिका वहां के लोगों की सुरक्षा और अमन में मदद करेगा।' उन्होंने उम्मीद जताई कि कश्मीर में ताजा बदलाव भ्रष्टाचार और आतंकवाद खत्म करने में सहायक होगा।

Posted By: Yogendra Sharma

fantasy cricket
fantasy cricket