इस्लामाबाद। पाकिस्तान के आवाजी वाले दिन यानी 14 अगस्त को प्रधानमंत्री इमरान खान पाक कब्जे वाले कश्मीर (PoK) का दौरा करेंगे। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने यह जानकारी दी। महमूद कुरैशी खुद भी बकरीद पर पीओके के मुजफ्फराबाद आए और आम लोगों के साथ ईद मनाई।

महमूद कुरैशी ने कहा, कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान और उसके सभी नेता साथ खड़े हैं। 14 अगस्त को पूरा देश कश्मीरियों के हक में आवाज उठाएगा।

पाकिस्तान पहले ही घोषणा कर चुका है कि वह 14 अगस्त को 'Kashmir Solidarity Day' के रूप में मनाए। पाकिस्तान ने 15 अगस्त को 'Black Day' घोषित किया है। इमरान खान 14 अगस्त को पीओके की विधानसभा को भी संबोधित करेंगे।

जम्मू-कश्मीर के लोगों की आवाज जरूर सुनी जाए : मनमोहन सिंह

इस बीच, भारत में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि अनुच्छेद 370 को हटाने का सरकार का फैसला देश के कई लोगों को पसंद नहीं आ रहा है। लिहाजा, भारत की सोच बरकरार रखने के लिए जम्मू-कश्मीर के निवासियों की आवाजों को जरूर सुना जाना चाहिए।

बकौल मनमोहन सिंह, भारत गहरे संकट के दौर से गुजर रहा है और उसे समान विचारधारा वाले लोगों के सहयोग की जरूरत है। हम अपनी आवाज उठाकर ही दीर्घावधि में भारत की सोच को कायम रख सकते हैं जो हम सभी के लिए बेहद कीमती है।