जेनेवा। बलूच कार्यकर्ता और बलोच मानवाधिकार आयोग के सेक्रेट्री जनरल समाद बलोच ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग में पाकिस्तान की कलई खोलकर रख दी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान आतंकियों का पनाहगार बन गया है। वह पूरी दुनिया के साथ ही खासतौर पर पड़ोसी देशों के लिए एक खतरा बनता जा रहा है क्योंकि वहां कानून व्यवस्था नाम की चीज नहीं बची है और अल्पसंख्यकों के साथ अन्याय हो रहा है।

समाद ने कहा कि पाकिस्तान में सिर्फ बलोच लोगों का ही नरसंहार नहीं हो रहा है, बल्कि हमारे सिंधी और पश्तून भाइयों की भी हत्या की जा रही है। यह देश पूरी दुनिया के लिए खतरा बन गया है क्योंकि वहां कानून और न्यान नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना लगातार बलूचिस्तान में अभियान करती है और इसकी वजह से कई लोगों को जबरन उठाकर ले जाया जाता है, जिनका बाद में कभी पता नहीं चलता।

समाद ने कहा कि विदेशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों से पाकिस्तान की जमीन पर आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए जो पैसे दिए जाते हैं, उनका इस्तेमाल वह मदरसे बनाने के लिए करता है। इन मदरसों के जरिये अवैध गतिविधियां होती हैं और आत्मघाती हमलावर तैयार किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि वहां के बड़े लोग अपने बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने के लिए पश्चिमी देशों में भेजते हैं और मदरसे में जाने के लिए हमारे बच्चों का ब्रेन वॉश करते हैं, ताकि जन्नत पाने के झूठे प्रपंच के तहत वे जिहाद फैला सके।

बताते चलें कि बलोच मानवाधिकार संगठन ने संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के सामने लगाए गए एक स्पेशल टेंट में 'द ह्यूमेनेटेरियन क्राइसिस इन बलूचिस्तान' विषय पर यह जानकारी दी। समाद से जब पूछा गया कि पाकिस्तान दावा कर रहा है कि वह फाटा से बचने के लिए आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है, इस बारे में वह क्या कहना चाहेंगे। इस पर उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की पूरी मीडिया, नेता और सेना पूरी दुनिया से झूठ बोल रहे हैं।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

fantasy cricket
fantasy cricket