वाशिंगटन। जानलेवा कोरोना वायरस का टीका व इलाज खोजने की दिशा में बड़ी सफलता मिली है। अमेरिका के वैज्ञानिकों ने इसका 3डी एटॉमिक स्केल मैप तैयार कर लिया है। यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के वैज्ञानिकों ने चीन के शोधकर्ताओं द्वारा उपलब्ध कराए गए वायरस के जेनेटिक कोड की मदद से यह सफलता पाई है। वैज्ञानिक इस एटॉमिक मैप को दुनियाभर के वैज्ञानिकों के साथ साझा करते हुए शोध की दिशा में प्रयासरत हैं। उम्मीद है कि इसकी मदद से इम्यून सिस्टम (प्रतिरक्षा प्रणाली) को वायरस से लड़ने के लिए तैयार करना संभव हो सकता है।

बताते चलें कि इस वायरस का प्रकोप दुनिया के कई देशों में फैल चुका है। उधर, कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद जापान में क्रूज पर फंसे यात्रियों को बाहर निकालने का काम शुरू कर दिया गया। क्रूज पर सवार कुल 3711 यात्रियों में से बुधवार को 500 से ज्यादा यात्रियों को डायमंड प्रिंसेस क्रूज से निकलने की इजाजत दी गई। क्रूज पर फंसे लोगों के लिए 14 दिनों की आइसोलेशन अवधि का समय मुश्किलों भरा रहा।

क्रूज में सवार 138 भारतीयों में से छह इस वायरस से संक्रमित थे। उनका जापान के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। बताते चलें कि डायमंड प्रिंसेज नाम का यह क्रूज पांच फरवरी को जापान के योकोहामा बंदरगाह पहुंचा था, तब तक उसमें कोई भी व्यक्ति संक्रमित नहीं था। मगर, हांगकांग में उतरे एक व्यक्ति के संक्रमित होने का पता चलने के बाद क्रूज को आइसोलेशन में रख दिया गया। क्रूज पर अब तक 600 से ज्यादा लोगों के संक्रमित होने का पता चला है। अमेरिका ने बीते रविवार को विशेष विमान भेजकर अपने 300 यात्रियों को क्रूज से बाहर निकाला था। इसमें वह 14 यात्री भी शामिल थे, जिनका टेस्ट पॉजिटिव आया था।

बताते चलें कि वायरस के संक्रमण से चीन में मृतकों की संख्या 2004 हो गई है। संक्रमित होने वालों की संख्या 74 हजार के पार हो गई है। महामारी के केंद्र वुहान से एक और बुरी खबर सामने आई है। वुचांग अस्पताल के निदेशक लिउ झिमिंग की मौत के बाद यहां की चीफ नर्स ली फैन (59) की मौत होने की जानकारी सामने आई है। ली की दो फरवरी तक अस्पताल के इंजेक्शन रूम में ड्यूटी थी।

परेशानी महसूस होने के बाद जब उनकी जांच की गई तो संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। 14 फरवरी को उनकी मौत हो गई। बता दें कि उनके माता-पिता और भाई की संक्रमण से पहले ही मौत हो चुकी है, जबकि उनके पति और बेटी को आइसोलेशन में रखा गया है। हालांकि अभी तक दोनों में संक्रमण नहीं मिला है। हांगकांग में एक और मरीज की मौत की जानकारी सामने आई है। वहीं, ईरान में भी कोरोना वायरस से दो लोगों की मौत हो गई है। ईरान के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि दोनों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, दोनों बुजुर्ग थे।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai