अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने कहा है कि चीन ने भारत से लगती उत्तरी सीमा पर 60 हजार सैनिक तैनात किए हैं। पोंपियो ने सीमा पर तनाव को लेकर चीन के व्यवहार पर ना केवल उसे फटकार लगाई बल्कि यह भी कहा कि बीजिंग क्वाड देशों के लिए खतरा बन गया है। कोरोना महामारी के शुरू होने के बाद यह विदेश मंत्रियों की पहली मुलाकात थी। विदेश मंत्रियों की यह बैठक हिंद-प्रशांत, दक्षिण चीन सागर में चीन के आक्रामक सैन्य रवैये और पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत के साथ तनाव के बीच हुई। टोक्यो में भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया के अपने समकक्षों के साथ दूसरी क्वाड बैठक में भाग लेने के बाद अमेरिका लौटे पोंपियो ने शुक्रवार को 'द गाइ बेंसन' शो में कहा कि भारतीय सेना उत्तरी सीमा पर 60 हजार चीनी जवानों की तैनाती को देख रही है। उन्होंने कहा, 'पिछले सप्ताह मैं भारत, ऑस्ट्रेलिया, और जापान के अपने समकक्षों के साथ था।

हिंद-प्रशांत देशों के विदेश मंत्रियों के समूह को क्वाड के तौर पर जाना जाता है। इस समूह में भारत, जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं। इन देशों के विदेश मंत्री मंगलवार को जापान की राजधानी टोक्यो में मिले थे। यह एक ऐसा प्रारूप है, जिसमें बड़े लोकतंत्र और शक्तिशाली अर्थव्यवस्थाओं वाले चार देश शामिल हैं।

इनमें से हर एक देश को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा खतरे का अंदेशा है।' पोंपियो ने मंगलवार को टोक्यो में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ मुलाकात को फलदायी बताया। एक अन्य साक्षात्कार में पोंपियो ने कहा कि चीन के साथ इस लड़ाई में क्वाड देशों को अमेरिका को सहयोगी बनाने की आवश्यकता है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Republic Day
Republic Day