China Taiwan Tension बीजिंग। चीन की दादागिरी लगातार बढ़ते जा रहा है, जिसके चलते अब चीन और ताइवान के बीच तनाव बढ़ते जा रहा है। ताइवान की सक्रियता को देखते हुए चीन ने अपनी सामरिक तैयारियों को मजबूत करना शुरू कर दिया है। दक्षिणपूर्व के समुद्री तट पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की गतिविधियां तेज हो गई हैं और अत्याधुनिक मिसाइल सीमा पर तैनात की जा रही हैं। हालांकि चीन ने कहा, उसने ताइवान से हमले की आशंका में ही ये तैयारियां शुरू की हैं। चीन को ताइवान की ओर से हमले का डर सता रहा है।

पहले की तुलना में दो गुना बढ़ी गतिविधियां

कनाडा की रक्षा एजेंसी ने दावा किया है कि चीन की गतिविधियां पहले की अपेक्षा दो गुना बढ़ गई हैं। चीन के मार्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक यहां पर डीएफ 11 और डीएफ 15 मिसाइल दशकों से तैनात थीं, अब डीएफ 17 हाइपरसोनिक मिसाइल तैनात की जा रही हैं। ये मिसाइल लंबी दूरी तक मार करने और सटीक निशाना लगाने में सक्षम हैं।

सैटेलाइट तस्वीरों में हुआ खुलासा

कनाडा स्थित कांबा रक्षा केन्द्र के अनुसार उपग्रह से ली गई तस्वीरों में स्पष्ट हो रहा है कि फूजियान और ग्वांगडोंग में चीन नौसेना और मिसाइल की क्षमता को बढ़ा रहा है। यहां मिसाइलों की संख्या पिछले कुछ वर्षों में दो गुना हो गई हैं। ये सब ताइवान को निशाने पर रखकर किया जा रहा है। न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार मंगलवार को चीन के प्रधानमंत्री ने सेना के ठिकाने पर दौरे में आगाह किया, सभी मानसिक रूप से युद्ध के लिए तैयार रहें। पिछले कुछ सालों में चीनी सेना ताइवान के आसपास 40 युद्धक विमानों के साथ लगातार युद्धाभ्यास कर रही है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020