लंदन Corona Vaccine । भारत में कोरोना संक्रमण के दूसरी लहर के कारण हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। इन हालात के बीच ब्रिटेन ने भारत को कोरोना वैक्सीन सप्लाई करने से साफ इनकार कर दिया है। ब्रिटेन ने कहा है कि फिलहाल उनके देश में इतनी वैक्सीन नहीं है कि वह भारत सहित किसी अन्य देश को सप्लाई कर सके। इस वजह से ब्रिटेन ने भारत को वैक्सीन नहीं देने का फैसला किया है। ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैंकॉक ने कहा कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के चलते अस्पतालों पर भारी दबाव है, जिसके चलते ब्रिटेन सरकार ने यह कड़ा फैसला लिया है।

भारत में लगातार बिगड़ रहे हालात

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के भारत बीते एक माह से जूझ रहा है और लगातार हालात बिगड़ते जा रहे हैं। भारत में फिलहाल रोज साढ़े तीन लाख से ज्यादा नए कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच अमेरिका सहित कुछ अन्य देश भारत की मदद के लिए आगे आए हैं। कनाडा ने 10 मिलियन डॉलर देने का एलान किया तो साउथ कोरिया ने मेडिकल सप्लाई भेजने की बात कही। न्यूजीलैंड ने भी भारत को 7 लाख अमेरिकी डॉलर देने का फैसला किया है। न्यूजीलैंड के विदेश मंत्री ननाइया महुता ने बुधवार (28 अप्रैल) को यह घोषणा की। वहीं अमेरिका भी 700 करोड़ रुपए से ज्यादा के मेडिकल उपकरण व जरूरी सामान भेज रहा है।

इन देशों ने भी भारत के सामने बढ़ाया मदद का हाथ

गौरतलब है कि भारत की मदद करने वाले देशों में अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, रूस और ब्रिटेन के साथ साथ ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर, चीन, कनाडा, थाईलैंड आदि शामिल हैं। इन देशों से ऑक्सीजन के अलावा वेंटिलेटर और मास्क भी आ रहे हैं। सिंगापुर ने हाल ही में भारत में ऑक्सीजन से भरे दो विमान भेजे तो कनाडा ने 60 करोड़ की मदद देने की घोषणा की थी। ब्रिटेन ने कोरोना वैक्सीन देने के भले ही इनकार कर दिया है लेकिन ब्रिटेन ने भारत में मदद के लिए 100 वेंटिलेटर और 95 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की पहली खेप भेजी है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags